थलसेना, नौसेना, वायुसेना के प्रमुखों ने की देश की सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा; लद्दाख में घुस आई थी चीनी सेना

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवानों ने बीच में दो बार दो इलाकों-फिंगर फोर और फिंगर फाइव में भारत की तरफ घुसने का प्रयास किया. लेकिन दोनों बार मुस्तैद भारतीय सैनिकों ने इन कोशिशों को विफल कर दिया.

थलसेना, नौसेना, वायुसेना के प्रमुखों ने की देश की सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा; लद्दाख में घुस आई थी चीनी सेना
भारत और चीन के सैनिकों के बीच भारत-चीन-भूटान ट्राई-जंक्शन में डोकलाम में दो महीने से थोड़ा अधिक वक्त से गतिरोध चल रहा है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: सेना, नौसेना और वायुसेना की शक्तिशाली चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी (सीओएससी) ने गुरुवार (17 अगस्त) को चीन-भारत सीमा समेत देश में तीनों सेनाओं की सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा की. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी.

सूत्रों ने बताया कि बैठक में डोकलाम में भारत और चीन की सेनाओं के बीच बने हुए गतिरोध पर और मंगलवार (15 अगस्त) को चीन के सैनिकों द्वारा लद्दाख की पैंगांग झील के किनारे भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने की कोशिशों पर भी चर्चा हुई.

एक सूत्र ने कहा, ‘‘देश की बाहरी सुरक्षा और सीमाओं के हालात से संबंधित विषयों पर भी चर्चा हुई.’’ दो दिन पहले ही भारतीय सीमा पर तैनात जवानों ने पैंगांग झील के किनारों से भारतीय क्षेत्र में घुसने की चीन के सैनिकों की कोशिश को नाकाम कर दिया था.

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवानों ने बीच में दो बार दो इलाकों-फिंगर फोर और फिंगर फाइव में भारत की तरफ घुसने का प्रयास किया. लेकिन दोनों बार मुस्तैद भारतीय सैनिकों ने इन कोशिशों को विफल कर दिया.

दोनों पक्षों के जवानों को मामूली चोट आईं और परंपरागत बैनर अभ्यास के बाद स्थिति को नियंत्रण में लाया गया जिसके तहत दोनों पक्ष अपनी अपनी स्थितियों में वापस लौटने से पहले बैनर दिखाते हैं. इस घटना पर बुधवार (16 अगस्त) को लेह के चूसूल सेक्टर में दोनों पक्षों की फ्लैग वार्ता में चर्चा हुई.

भारत और चीन के सैनिकों के बीच भारत-चीन-भूटान ट्राई-जंक्शन में डोकलाम में दो महीने से थोड़ा अधिक वक्त से गतिरोध चल रहा है. चीन भारत के खिलाफ बयान देते हुए डोकलाम से भारतीय जवानों को तत्काल हटाने की मांग करता आ रहा है. चीन के सरकारी मीडिया ने डोकलाम गतिरोध पर भारत की आलोचना करते हुए लेख प्रकाशित किये हैं.