close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्‍ली एयरपोर्ट: तस्‍करों के लिए मददगार बने इन 15 रास्‍तों को सालों से है कस्‍टम के हवलदारों की दरकार

एयरपोर्ट की सुरक्षा में मौजूद इन लकूनों का फायदा उठाकर बीते दिनों एक लोडर तस्‍करी के जरिए लाए गए सोने को एयर साइट से बाहर ले जाने की कोशिश करते हुए पकड़ा गया था. 

दिल्‍ली एयरपोर्ट: तस्‍करों के लिए मददगार बने इन 15 रास्‍तों को सालों से है कस्‍टम के हवलदारों की दरकार
कस्‍टम विभाग में वर्षों से नहीं हुई है हवलदारों की भर्ती, जिसका फायदा तस्‍करों को मिल रहा है (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: दिल्‍ली एयरपोर्ट पर मौजूद समय में कुल 15 ऐसे रास्‍ते हैं, जिनका इस्‍तेमाल तस्‍कर सोना तस्‍करी के लिए कर रहे हैं. ऐसा नहीं है कि तस्‍करों के लिए मददगार बने इन 15 रास्‍तों के बारे में एयरपोर्ट की कस्‍टम विभाग को मालूम नहीं है. एयरपोर्ट की सुरक्षा में मौजूद इन लकूनों के बाबत जानकारी होने के बावजूद कस्‍टम विभाग चाह कर भी कोई ठोस कदम नहीं उठा पा रहा है. कस्‍टम की इस मजबूरी के पीछे सबसे बड़ी वजह है, दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पर कस्‍टम हवलदारों की भारी कमी. 

नियमत: इन सभी रास्‍तों पर कस्‍टम के दो हवलदारों की तैनाती होनी चाहिए, जिससे इन गेट्स से निकलने वाले एयरपोर्ट कर्मियों की तलाशी ली जा सके. इस कमी के चलते, वर्षों से न ही इन 15 गेट्स पर न ही कस्‍टम हलवदारों की तैनाती की जा रही है और न ही इन गेट्स से निकलने वाले एयरपोर्ट कर्मियों की जांच हो पा रही है. कभी-कभी इन गेट्स पर तैनात सीआईएसएफ के जवान एयरपोर्ट कर्मियों की तलाशी जरूर लेते हैं, लेकिन दिल्‍ली एयरपोर्ट से बढ़ती सोना तस्‍करी की कोशिशों को देखते हुए यह जांच नाकाफी है. 

एयरसाइट पर दाखिल होने वाले एयरपोर्ट कर्मियों पर रहता है CISF का ध्‍यान
एयरपोर्ट सुरक्षा से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि एयर साइट पर काम करने वाले बहुत से कर्मचारियों को टर्मिनल‍ बिल्डिंग में दाखिल होने का अधिकार नहीं है. जिसके चलते, इन कर्मचारियों का आवागमन एयरपोर्ट के विभिन्‍न 15 स्‍टील गेट से होता है. इन स्‍टील गेट की सुरक्षा के लिए सीआईएसएफ के जवानों को तैनात किया गया है. सीआईएसएफ के जवानों की प्राथमिक जिम्‍मेदारी है कि कोई भी एयरपोर्ट कर्मी किसी प्रकार की आपत्तिजनक सामग्री लेकर एयर साइट में दाखिल न हो पाए. 

लिहाजा, सीआईएसएफ के जवान एयर साइट पर दाखिल होने वाले एयरपोर्ट कर्मियों की सघन तलाशी लेते हैं. वहीं एयर साइट से बाहर जाते समय इन एयरपोर्ट कर्मियों की सीआईएसएफ औचक जांच करती है. जिसके चलते तस्‍करी के जरिए लाया गया सोना एयरपोर्ट के बाहर निकलने की संभावना बनी रहती है. अधिकारी ने बताया कि तस्‍करी के जरिए लाए गए किसी भी सामान को रोकने की प्राथमिक जिम्‍मेदारी कस्‍टम विभाग की है. इस जिम्‍मेदारी के तहत कस्‍टम के दो हवलदारों की तैनाती इन स्‍टील गेट पर की जाती है. 

सालों से एयरपोर्ट के स्‍टील गेट्स से नदारद है कस्‍टम विभाग के हवलदार
एयरपोर्ट सुरक्षा से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, कस्‍टम विभाग द्वारा स्‍टील गेट पर तैनात किए जाने वाले हवलदारों की जिम्‍मेदारी होती है कि वे एयरसाइट से बाहर जाने वाले हर एयरपोर्ट कर्मी की तलाशी लें, जिससे तस्‍करी की किसी भी संभावना को रोका जा सके. बावजूद इसके, दिल्‍ली एयरपोर्ट पर आलम यह है कि वर्षों से इन स्‍टील गेट को कस्‍टम के हवलदारों से महरूम रखा गया है. जिससे टर्मिनल से बाहर निकलने वाले एयरपोर्ट कर्मियों और लोडर्स की तलाशी नहीं हो पा रही है. मौजूदा समय में, एयरपोर्ट के किसी भी स्‍टील गेट पर एक भी कस्‍टम हवालदार की मौजूदगी नहीं है. 

वहीं, दिल्‍ली एयरपोर्ट के स्‍टील गेट पर कस्‍टम हवलदारों की तैनाती न होने को लेकर कस्‍टम के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि बीते कई वर्षों से विभाग ने हवलदारों की भर्ती ही नहीं की है. जिसका असर अब आईजीआई एयरपोर्ट पर दिखता है. मौजूदा स्‍टाफ इतना नहीं है कि उनकी स्‍थाई तैनाती एयरपोर्ट के स्‍टील गेट पर की जा सके. उन्‍होंने बताया कि तस्‍करी संभावना को देखते हुए समय-समय पर कस्‍टम की प्रिवेंटिव टीम इस गेट का औचक निरीक्षण कर एयरपोर्ट कर्मियों की तलाशी लेती है. यही स्‍टाफ, घरेलू टर्मिनल पर भी गश्‍त कर तस्‍करी की कोशिशों को नाकाम करता है. 

यह भी पढ़ें: महिला मुसाफिर के बैग से चोरी किए थे सोने के दो कड़े, CISF की सतर्कता से पहुंचा सलाखों के पीछे

बीते दिनों, स्‍टील गेट से सोना बाहर निकालने की कोशिशें आ चुकी है सामने 
एयरपोर्ट सुरक्षा से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि बीते दिनों देश के दो एयरपोर्ट पर स्‍टील गेट से सोना बाहर निकालने की कोशिशें सामने आ चुकी हैं. पहला मामला दिल्‍ली एयरपोर्ट का है. जिसमें खाड़ी देश से आए सोने को बैग से निकालकर एक एयरपोर्ट कर्मी स्‍टील गेट से बाहर जा रहा था. गनीमत रही कि इस बाबत समय रहते कस्‍टम प्रिवेंटिव के अधिकारियों को इसकी भनक लग गई. जिसके बाद, कस्‍टम के अधिकारियों ने इस एयरपोर्ट कर्मी को स्‍टील गेट के पास से हिरासत में लेकर तस्‍करी के जरिए लाए गए सोने को बरामद कर लिया. 

वहीं, दूसरा मामला मुंबई एयरपोर्ट का है. जिसमें सीआईएसएफ ने औचक जांच के दौरान एयरपोर्ट कर्मी को दो सोने के कड़ों के साथ हिरासत में लिया था. इस मामले में एक लोडर ने दुबई जा रही एक महिला के बैग से सोने के दो कड़े चोरी कर लिए थे. आरोपी लोडर एयरपोर्ट के स्‍टील गेट से बाहर निकलने की कोशिश कर रहा था, तभी सीआईएसएफ के जवानों ने औचक तलाशी लेकर इस लोडर को हिरासत में ले लिया था. बाद में, इस लोडर को बरामद सोने के कड़ों के साथ मुंबई पुलिस के हवाले कर दिया गया था.