जम्मू-कश्मीर: टेरर फंडिंग के आरोपी पर ED का एक्शन, घर और बीवी का बैंक बैलेंस जब्त

ED ने मनी लॉड्रिंग का मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी तो पता चला कि एजाज ने हवाला के जरिये उस दौरान करीब 8.50 लाख रुपये कमाये थे.

जम्मू-कश्मीर: टेरर फंडिंग के आरोपी पर ED का एक्शन, घर और बीवी का बैंक बैलेंस जब्त
टेरर फंडिंग मामले में ED की बड़ी कार्रवाई.

श्रीनगर: 2006 के एक आतंकी फंडिंग मामले में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के बारामुला निवासी एजाज हुसैन ख्वाजा के खिलाफ एक्शन लेते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉड्रिंग एक्ट, 2002 (पीएमएलए) के तहत कुल 7.32 लाख रुपए की संपत्ति जब्त की है. जब्त संपत्ति में नई दिल्ली के जंगपुरा में एक आवासीय फ्लैट, आरोपी एजाज हुसैन ख्वाजा की पत्नी का बैंक बैलेंस शामिल है. जब्त संपत्ति का वर्तमान में मार्केट वैल्यू कहीं ज्यादा है.

एजाज हुसैन ख्वाजा को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 2006 में 2.5 किलो RDX और 49 लाख नकद के साथ गिरफ्तार किया था. एजाज पाकिस्तानी आतंकियों और हुर्रियत के लिये हवाला का काम करता था और उनके कहने पर RDX भी ले जा रहा था. दिल्ली पुलिस ने लोधी कॉलोनी इलाके से एजाज को जुलाई 2006 में गिरफ्तार किया था. पुलिस को पुछताछ में एजाज ने बताया था कि वो मुख्तार अहमद बट्ट जोकि कश्मीरी है और पाकिस्तान में है, के लिये हवाला का काम करता है. 

ये भी पढ़ें: कोरोना के इलाज के लिए इस दवा का रेट तय हुआ, चुकाने होंगे इतने रुपए

उसी के कहने पर एजाज हवाला के 49 लाख रुपये और 2.5 किलो RDX आतंकी हैदर, फरस और उमर से लाया था, तीनों पाकिस्तानी थे और ये सामान दो पाकिस्तानी उस्मान और इरफान को देना था. लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने एजाज को गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस ने उस समय बाकी आतंकियों को भी पकड़ने की कोशिश की थी लेकिन वो फरार हो चुके थे.

दिल्ली की अदालत ने उस मामले में कारवाई करते हुये मई 2009 में एजाज को सात साल की सज़ा सुनाई थी और पकड़े गये 49 लाख रुपये जब्त करने के आदेश दिये थे. ED ने मनी लॉड्रिंग का मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी तो पता चला कि एजाज ने हवाला के जरिये उस दौरान करीब 8.50 लाख रुपये कमाये थे. उसी पर कारवाई करते हुये ED ने अब 7.32 लाख रुपए की संपति अटैच की है.