close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

WhatsApp जासूसी कांड: इजराइल पहुंचा ZEE MEDIA का सहयोगी चैनल WION, 5 बड़े खुलासे!

ZEE NEWS का सहयोगी चैनल WION सबसे पहले जासूसों के ठिकाने तक पहुंच गया है. WION के रिपोर्टर डेनियल इस जासूसी कांड के हर खुलासे और पड़ताल के लिए इजरायल में हैं.

WhatsApp जासूसी कांड: इजराइल पहुंचा ZEE MEDIA का सहयोगी चैनल WION, 5 बड़े खुलासे!
सबसे पहले इजरायल पहुंचे WION के रिपोर्टर डेनियल ने कई खुलासे किए हैं.

(डैनियल पगानी, WION), तेलअवीव:  30 अक्टूबर को ZEE NEWS ने सबसे पहले WhatsApp जासूसी कांड की खबर आपको बताई थी. हमने आपको बताया था कि कैसे इस पूरे खेल को अंजाम दिया गया. किन-किन तरह के लोगों को इसका शिकार बनाया गया और कैसे इस पर सियासत शुरू हुई. इस ख़बर की पड़ताल हमने तबसे जारी रखी और अब ZEE NEWS का सहयोगी चैनल WION सबसे पहले जासूसों के ठिकाने तक पहुंच गया है. WION के रिपोर्टर डेनियल इस जासूसी कांड के हर खुलासे और पड़ताल के लिए इजरायल में हैं और वहीं से उन्होंने इस पूरे जासूसी कांड पर कई खुलासे किए हैं. 

जिस WhatsApp जासूसी कांड ने भारत ही नहीं दुनिया भर के देशों की सियासत में भूचाल मचा दिया है. उसको अंजाम देने वाली कंपनी के ठिकाने तक पहुंच गया है ZEE NEWS का सहयोगी चैनल WION. सबसे पहले इजरायल पहुंचे WION के रिपोर्टर डेनियल ने कई खुलासे किये हैं. और ऐसे ही पांच बड़े खुलासे आपको बताते हैं 

खुलासा नंबर 1: जासूसी का ठिकाना बंद
WhatsApp के जरिये जासूसी करने वाली कंपनी NSO का दफ्तर इजरायल में है. तेल अवीव के नजदीक हरजेलिया में यही NSO का वो दफ्तर है. जहां से पूरी दुनिया के चुनिंदा लोगों की जासूसी की गई...लेकिन अब इस दफ्तर से कंपनी का नाम हटा लिया गया है. यहां सिर्फ दफ्तर की बिल्डिंग ही है. बाकी सब कुछ खाली है. 

खुलासा नंबर 2: गायब हो गये सारे जासूस 
इजरायल से WhatsApp जासूसी कांड का दूसरा खुलासा ये है कि इस कांड के सारे जासूस गायब हो गए हैं. ज़ाहिर दफ्तर बंद होने के बाद यहां काम करने वाला कोई भी कर्मचारी अब यहां नहीं है...और उनका कोई पता ठिकाना भी किसी के पास नहीं है. 

खुलासा नंबर 3: वेबसाइट से फोन नंबर गायब
जासूसी कांड के पड़ताल के दौरान हम जब आगे बढ़े तो हमने कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट का रुख किया...उम्मीद थी कि यहां से कंपनी के बारे में ज्यादा नहीं तो कुछ तो जानकारी मिलेगी ही लेकिन यहां भी हमे निराशा ही हाथ लगी क्योंकि कंपनी ने अपनी वेबसाइट से अपने सारे नंबर को हटा लिया है. मतलब साफ है कि जासूसी कांड के बाद वो किसी से बात नहीं करना चाहते. 

खुलासा नंबर 4: वेबसाइट से पता भी गायब
फोन नंबर और सारी जानकारियों के साथ ही कंपनी ने अपनी वेबसाइट के अपना पता भी डिलीट कर दिया है. ज़ाहिर है कि ऐसे में उन तक पहुंचना बेहद मुश्किल काम था लेकिन हमारे रिपोर्टर ने उन चुनौतियों का सामना करते हुए ना सिर्फ NSO का ठिकाना पता किया बल्कि वहां तक पहुंच भी गए. 

LIVE टीवी: 

खुलासा नंबर 5: कंपनी के निदेशक भी छिपे 
WhatsApp जासूसी कांड में हमारे सहयोगी चैनल WION के रिपोर्टर डैनियल पगानी ने इस दौरान कंपनी के डायरेक्टर्स से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन वो भी नहीं मिले. हालांकि इस दौरान हमने ये जानकारी जरूर जुटाई कि कंपनी के दोनों डायरेक्टर्स को किसी और मामले में इजरायल की कोर्ट में पेश होना है. 

WhatsApp जासूसी कांड की परत दर परत खोलने के लिए और पूरा सच जानने के लिए हमने कई माध्यम से NSO से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन ना तो उनसे संपर्क हो पाया और ना ही उनका कोई जवाब ही आया.