FabIndia के Jashn-e-Riwaaz कैंपेन पर बवाल, #BoycottFabIndia की उठी आवाज
X

FabIndia के Jashn-e-Riwaaz कैंपेन पर बवाल, #BoycottFabIndia की उठी आवाज

#BoycottFabIndia Twitter पर ट्रेंड कर रहा है. इसके जरिए सोशल मीडिया यूजर FabIndia के बहिष्कार की मांग कर रहे हैं. लोगों में कंपनी के 'Jashn-e-Riwaaz' कैंपेन को लेकर गुस्सा है.

FabIndia के Jashn-e-Riwaaz कैंपेन पर बवाल, #BoycottFabIndia की उठी आवाज

FabIndia कंपनी के 'Jashn-e-Riwaaz' कैंपेन पर बवाल मच गया है. सोशल मीडिया पर सुबह से  #BoycottFabIndia टॉप ट्रेंड कर रहा है. ये विवाद क्लोथिंग, होम डेकोर और लाइफ स्टाइल प्रोडक्ट्स से जुड़ी कंपनी फैब इंडिया के ट्वीट- ‘हम प्यार और रोशनी के त्योहार का स्वागत कर रहे हैं. फैब इंडिया की तरफ से जश्न-ए-रिवाज कलेक्शन पेश है.' पर शुरू हुआ. नेताओं से लेकर आम लोग भी दीपावली  को ‘जश्न-ए-रिवाज’ कहने पर आपत्ति जता रहे हैं. ट्विटर पर फैब इंडिया के बहिष्कार की मांग हो रही है.

तेजस्वी ने की बहिष्कार की मांग

इस मुद्दे पर बेंगलुरु से सांसद तेजस्वी सूर्या (Tejasvi Surya) ने भी ट्वीट किया. तेजस्वी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘दीपावली पर्व जश्न-ए-रिवाज नहीं है. इसका विरोध और बहिष्कार होना चाहिए. फैब इंडिया जैसे किसी भी ब्रांड को ऐसी हरकत के लिए आर्थिक नुकसान झेलना चाहिए.’

 

'धार्मिक त्योहार को खत्म करने की कोशिश'

फैब इंडिया के 'Jashn-e-Riwaaz' कैंपेन पर पद्श्री और मणिपाल ग्लोबल एजुकेशन के चैयरमैन मोहनदास पाई ने भी आपत्ति जताई. उन्होंने Twitter लिखा, 'दीपावली पर फैब इंडिया का बहुत ही शर्मनाक बयान! यह एक हिंदू धार्मिक त्योहार है जैसे क्रिसमस और ईद दूसरों के लिए है! इस तरह का बयान एक धार्मिक त्योहार को खत्म करने की सोची-समझी कोशिश को दिखाता है!'

 

 

 

LIVE TV

 

Trending news