close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

NGO में करता था काम, फिर बन गया ISIS का आतंकी, अब पिता ने मांगी मोदी सरकार से मदद

अहमद 2013 में सीरिया गया था और अपने परिवार को सूचित किया था कि वह वहां एक एनजीओ के साथ काम कर रहा है.

NGO में करता था काम, फिर बन गया ISIS का आतंकी, अब पिता ने मांगी मोदी सरकार से मदद
उसके पिता फयाज अहमद एक ठेकेदार के तौर पर कार्य करते हैं और एक डिपार्टमेंटल स्टोर भी चलाते हैं.

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर पुलिस ने उस कश्मीरी व्यक्ति का आवेदन केंद्र को भेज दिया है जिसमें उसने अपने पुत्र को वापस भारत लाने का अनुरोध किया है जो आतंकवादी संगठन आईएसआईएस में शामिल हो गया था और अब सीरिया में अमेरिकी सहयोगी बलों की हिरासत में है. अधिकारियों ने रविवार को बताया कि कश्मीर निवासी आदिल अहमद ने अपनी एमबीए की पढ़ाई आस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड से की थी. उसने इस वर्ष के शुरू में सीरिया में आईएसआईएस के अन्य लड़ाकों के साथ अमेरिकी सहयोगी बलों द्वारा पकड़े जाने के बाद आत्मसमर्पण कर दिया था.

अहमद 2013 में सीरिया गया था और अपने परिवार को सूचित किया था कि वह वहां एक एनजीओ के साथ काम कर रहा है. उसके पिता फयाज अहमद एक ठेकेदार के तौर पर कार्य करते हैं और एक डिपार्टमेंटल स्टोर भी चलाते हैं. उन्हें अभी भी विश्वास नहीं हो रहा कि उनका बेटा इस खतरनाक आतंकवादी संगठन में शामिल हो गया है. वह अपने पुत्र की वापसी के लिए एक स्थान से दूसरे स्थान पर भटक रहे हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि राजधानी दिल्ली में नयी सरकार आने के बाद चीजें (पुत्र को वापस लाने की दिशा में) आगे बढ़ेंगी. अधिकारियों ने बताया कि फयाज अहमद की अर्जी आवश्यक कार्रवाई के लिए नयी दिल्ली में केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों को भेज दी गई है. एक अधिकारी ने अपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर कहा, ‘‘यदि आदिल को वापस लाया जाता है तो वह आईएसआईएस के कामकाज के तरीके और उनकी योजनाओं के बारे में बता सकता है.’’