close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

DU के पूर्व प्रोफेसर गिलानी गिरफ्तार, प्रेस क्लब में नारेबाजी को लेकर देशद्रोह का केस

दिल्ली यूनिवर्सिटी के पूर्व प्रोफेसर एसएआर गिलानी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने रात ही उन्हें हिरासत में ले लिया था और आज सुबह उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। गिलानी को मंगलवार को  पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा।

DU के पूर्व प्रोफेसर गिलानी गिरफ्तार, प्रेस क्लब में नारेबाजी को लेकर देशद्रोह का केस

नई दिल्ली: दिल्ली यूनिवर्सिटी के पूर्व प्रोफेसर एसएआर गिलानी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली पुलिस ने रात ही उन्हें हिरासत में ले लिया था और आज सुबह उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। गिलानी को मंगलवार को  पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा।

 

दिल्ली के प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित एक कार्यक्रम में देश विरोधी नारे लगाने के बाद उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया था। इससे पहले उन्हें मेडिकल के लिए अस्पताल भी ले जाया गया था। गिलानी की गिरफ्तारी देशद्रोह के मुकदमे के तहत हुई है।

नई दिल्ली के पुलिस उपायुक्त जतिन नरवाल ने कहा, ‘ गिलानी को देर रात करीब तीन बजे भारतीय दंड संहिता की धाराओं 124 ए ( देशद्रोह), 120 बी (आपराधिक षडयंत्र) और 149 (गैरकानूनी रूप से एकत्र होना) के तहत संसद मार्ग पुलिस थाने में गिरफ्तार किया गया।’ उन्होंने बताया कि गिलानी को कल रात पुलिस थाने बुलाया गया था जहां उन्हें हिरासत में लिया गया और उनके कई घंटों तक पूछताछ की गई। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें गिरफ्तार किए जाने के बाद चिकित्सीय जांच के लिए आरएमएल अस्पताल ले जाया गया।

 

गिलानी को ऐसे समय पर गिरफ्तार किया गया है जब जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार को देशद्रोह के आरोप गिरफ्तार किए जाने को लेकर विवाद छिड़ा हुआ है। कुमार को संसद पर हमला करने के दोषी अफजल गुरू को फांसी की सजा दिए जाने के विरोध में नौ फरवरी को आयोजित समारोह के संबंध में गिरफ्तार किया गया है।

गौर हो कि प्रेस क्लब में 10 फरवरी को आयोजित एक कार्यक्रम में कुछ लोगों ने कथित तौर पर संसद हमले के दोषी अफजल गुरु के समर्थन में नारेबाजी की थी, जिसके बाद पुलिस ने गिलानी और अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस का कहना है कि गिलानी पर इसलिए मामला दर्ज किया गया क्योंकि उन्हें समारोह का मुख्य आयोजक माना गया है।

(एजेंसी इनपुट के साथ)