close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक इंजीनियर राशिद को न्यायिक हिरासत में भेजा

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक शेख अब्दुल राशिद उर्फ इंजीनियर राशिद को एक आतंकी फंडिंग मामले में 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस मामले में 26/11 का मास्टरमांइड व आतंकवादी हाफिज सईद शामिल है। 

जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक इंजीनियर राशिद को न्यायिक हिरासत में भेजा
जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक शेख अब्दुल राशिद उर्फ इंजीनियर राशिद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक शेख अब्दुल राशिद उर्फ इंजीनियर राशिद को एक आतंकी फंडिंग मामले में 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इस मामले में 26/11 का मास्टरमांइड व आतंकवादी हाफिज सईद शामिल है। 

राशिद को जिला व सत्र न्यायाधीश यशवंत कुमार के समक्ष प्रस्तुत किया गया। ऐसा एनआईए के विशेष न्यायाधीश राकेश सयाल के छुट्टी पर होने की वजह से किया गया। सयाल मामले की सुनवाई कर रहे हैं।

एनआईए ने इससे पहले अदालत से कहा था कि राजनेता जो इस महीने की शुरुआत में गिरफ्तार हुए हैं, उन्होंने भी सईद से फंड प्राप्त किया है। राशिद का नाम मामले में व्यापारी जहूर अहमद वटाली से पूछताछ के दौरान सामने आया। उस पर वटाली से पैसे लेने का आरोप है।

कई अलगाववादी नेता जम्मू-कश्मीर आतंकी फंडिंग मामले के संबंध में न्यायिक हिरासत में हैं। इसे लेकर एनआईए ने दो साल पहले मामला दर्ज किया था। इन नेताओं में शब्बीर शाह, मसरत आलम व आसिया अंद्राबी भी शामिल हैं।

एजेंसी ने कहा कि पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठनों ने घाटी में अशांति भड़काने के लिए अलगाववादी नेताओं को फंड मुहैया कराया। इन पाकिस्तानी संगठनों में लश्कर-ए-तैयबा, हिजबुल मुजाहिदीन के साथ आईएसआई शामिल है। इस मामले में आरोप पत्र बीते साल जनवरी में दायर किया गया।