महबूबा-गंभीर विवाद: गौतम बोले - 130 करोड़ लोगों को कब तक ब्लॉक रखेंगी, देखें VIDEO

दो दिन पहले कश्मीर के मुद्दे पर पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी नेता गौतम गंभीर और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के बीच ट्विटर पर तीखी बहस देखनो को मिली थी. बहस के बाद महबूबा ने उन्हें ट्विटर पर ब्लॉक कर दिया था. ब्लॉक किए जाने को लेकर गंभीर ने प्रतिक्रिया दी है. 

महबूबा-गंभीर विवाद: गौतम बोले - 130 करोड़ लोगों को कब तक ब्लॉक रखेंगी, देखें VIDEO
गौतम गंभीर के आज के बयान का संदर्भ दो दिन पहले महबूबा मुफ्ती से ट्विटर पर हुए विवाद से जुड़ा है.

नई दिल्ली: दो दिन पहले कश्मीर के मुद्दे पर पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी नेता गौतम गंभीर और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के बीच ट्विटर पर तीखी बहस देखनो को मिली थी. बहस के बाद महबूबा ने उन्हें ट्विटर पर ब्लॉक कर दिया था. ब्लॉक किए जाने को लेकर गंभीर ने प्रतिक्रिया दी है. गंभीर ने गुरुवार को कहा कि महबूबा मुझे ब्लॉक कर सकती हैं लेकिन वह देश के 130 करोड़ लोगों को कब तक ब्लॉक करके रखेंगी. 

गंभीर ने आगे कहा, "देश में लहर है और यदि यह लहर उन्हें दिखाई न दे रही हो तो इसमें डूब जाएंगी. 2014 में भी एक लहर थी, 2019 में तो सूनामी है."

दो दिन पहले दोनों में जमकर हुई थी बहस
गौतम गंभीर के आज के बयान का संदर्भ दो दिन पहले महबूबा मुफ्ती से ट्विटर पर हुए विवाद से जुड़ा है. दरअसल, पीडीपी चीफ महबूबा ने एक ट्वीट में कहा था कि अनुच्छेद 370 समाप्त करने का मतलब होगा कि राज्य में अब भारत का संविधान प्रभावी नहीं होगा और अगर भारतीय इसे नहीं समझते तो वे ‘गायब’ हो जाएंगे और उनकी ‘कहानी खत्म हो जाएगी’. इस पर पिछले महीने ही भाजपा में शामिल हुए गंभीर ने लिखा, ‘‘यह भारत है और आपके जैसा धब्बा नहीं है जो गायब हो जाएगा.’’ 

 

महबूबा की ओर से तीखा जवाब आया 
इस पर महबूबा मुफ्ती की ओर से तीखा जवाब आया. लेकिन यह जवाब पूरे दस घंटे बाद आया. उन्होंने कहा, "उम्मीद करती हूं कि बीजेपी में आपकी राजनीतिक पारी आपके क्रिकेट कॅरियर की तरह बहुत खराब नहीं रहे." गंभीर ने भी जवाब दिया, "ओह तो आपने मेरे ट्विटर हैंडल को अनब्लॉक कर दिया. आपको मेरे ट्वीट का जवाब देने के लिए 10 घंटे लगे और इस तरह की नीरस तुलना की. इतने धीमे. यह आपके व्यक्तित्व में गहराई की कमी दिखाता है." 
इसके बाद बहस अप्रिय होने लगी. मुफ्ती ने गंभीर की मानसिक सेहत पर चिंता जता दी.