गणपति लायेंगे धन, लक्ष्मी करेंगी धन वर्षा

गणपति बप्पा का जन्मोत्सव चल रहा है। पीछे से मां लक्ष्मी भी, 15 दिन के लिये धरती पर आ गई हैं। दीपावली पर तो लक्ष्मी-गणेश की पूजा होती ही है। लेकिन भाद्रपद शुक्ल पक्ष में तो लक्ष्मी गणेश साक्षात, धनवर्षा कराने आ जाते हैं। जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि धन संपत्ति हर मनुष्य के भाग्य में है। जन्म से पहले, हर व्यक्ति के नाम की तिजोरी भेजी जाती है। बस उसकी चाबी भगवान के पास रहती है। आपको अमीर बनने के लिये वही चाबी पाने की कोशिश करनी है। अब आपकी तिजोरी का ताला, किस चाबी से खुलेगा, यह तो हमें नहीं मालूम। इसीलिये आपको रोज़ तरह-तरह के ऐसे धन उपायों की चाबी दे रहे हैं, जिससे आप, अपने भाग्य की तिजोरी का ताला खोल सकें। तो आज एक बार फिर लक्ष्मी गणेश के उपायों की 13 चाबियां लाये हैं खास आपके लिये। देखिये आपकी तिजोरी की कौन सी चाबी है?

गणपति लायेंगे धन, लक्ष्मी करेंगी धन वर्षा
फाइल फोटो

दिल्ली: गणपति बप्पा का जन्मोत्सव चल रहा है। पीछे से मां लक्ष्मी भी, 15 दिन के लिये धरती पर आ गई हैं। दीपावली पर तो लक्ष्मी-गणेश की पूजा होती ही है। लेकिन भाद्रपद शुक्ल पक्ष में तो लक्ष्मी गणेश साक्षात, धनवर्षा कराने आ जाते हैं। जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि धन संपत्ति हर मनुष्य के भाग्य में है। जन्म से पहले, हर व्यक्ति के नाम की तिजोरी भेजी जाती है। बस उसकी चाबी भगवान के पास रहती है। आपको अमीर बनने के लिये वही चाबी पाने की कोशिश करनी है। अब आपकी तिजोरी का ताला, किस चाबी से खुलेगा, यह तो हमें नहीं मालूम। इसीलिये आपको रोज़ तरह-तरह के ऐसे धन उपायों की चाबी दे रहे हैं, जिससे आप, अपने भाग्य की तिजोरी का ताला खोल सकें। तो आज एक बार फिर लक्ष्मी गणेश के उपायों की 13 चाबियां लाये हैं खास आपके लिये। देखिये आपकी तिजोरी की कौन सी चाबी है?
 किस चाबी से खुलेगा आपकी तिजोरी का ताला?
-धन पाना हो तो लक्ष्मी गणेश के वरदान देते चित्र या प्रतिमा की सफेद फूल से पूजा करें। 
-अचानक धन पाने के लिये गणपति को आम चढ़ायें। गणेश जी को गणाधिपति बनाने के बाद शिव जी ने गणपति को  उपहार में आम दिया था। इसीलिये आम चढ़ाने से गणेश जी खुश होकर धन देते हैं।
-शुक्रवार को दक्षिणावर्ती शंख में जल भर कर, घर में छिड़कने से लक्ष्मी द्वार खोलकर आयेंगी।
-21 बत्ती का दिया जलाकर, 21 लड्डू का भोग लगाकर, 5 लड्डू मां लक्ष्मी के चरणों में रखकर बाकी के लड्डू कन्या में  बांटें। आपको अपार धन मिलेगा।
-अगर रास्ते में कहीं भी हाथी दिखे तो उसे प्रणाम करने से भी, धन आगमन के स्रोत बढ़ेंगे।
-108 दूर्वा और कमल शहद में डुबाकर,लक्ष्मी-गणपति की प्रतिमा के सामने हवन करने से भी, लक्ष्मी आयेंगी
-अष्टदल कमल पर एकाक्षी नारियल की स्थापना करें। ओम एं ह्रीं श्रीं गणपतये नम: मंत्र 108 बार जपें। फिर  नारियल  को रेशमी वस्त्र में बांधकर, तिजोरी में रखने से धन आगमन होगा।
-अर्क गणपति की स्थापना करके, 8 अर्क के फूल चढ़ाने से भी लक्ष्मी दौड़ी चली आयेंगी।
-कर्ज़ चुकाने के लिये 5 नारियल, गणपति पर चढ़ायें। ओम गणेश ऋणं छिंदी मंत्र और ऋण विमोचन गणपति स्त्रोत का  पाठ करें।
-धन पाने के लिये,ऑफिस या घर में इन धातुओं के गणपति प्रतिमा स्थापित करें
-तांबे के गणपति
-स्वर्ण गणपति 
-रत्न गणपति
-नवधान्य गणपति
-पीतल के गणपति
-चांदी गणपति
-स्फटिक के गणपति
-मोती के गणपति
-मरगद गणपति 
-अचानक आर्थिक संकट आने पर,गणपति पुराण के अनुसार,ओम श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं गं गण पतयै वरवरद सर्वजन  में  वशमानाय स्वाहा मंत्र की 11 का जाप करने से, आर्थिक संकट टल जायेगा।
-श्रीसूक्त और गणपति अथर्वशीर्ष पढ़कर छुहारे और मोदक का भोग लगाने से भी, गणपति प्रसन्न होकर, मां लक्ष्मी के  साथ आपके घर में समृद्धि का श्रीगणेश करेंगे। 
-गणपति को 11 या 21 केले की माला भी चढ़ाने से भी धन का आगमन होगा।
-घर में वास्तुदोष होने पर भी धन आगमन के श्रोत बंद हो जाते हैं। इसलिये गणपति को 11  मोदक चढ़ायें। फिर 8  मोदक निकाल कर 8 दिशा में रखें, बाकी 3 गणपति के चरणों में रखें। ऐसा करने से वास्तुदोष दूर होगा और लक्ष्मी के  पैर आपके घर में पड़़ेंगे। 
तो देखिये कौन सा उपाय बनेगी आपकी तिजोरी की चाबी, आज़मायें ज़रूर, हमारा विश्वास है कि  एक न एक दिन धन के  उपायों के मंथन से, आपको सुख समृद्धि का अमृत मिलेगा ज़रूर।