गोधरा कांड का मुख्य आरोपी फारुख भाणा 14 साल बाद गिरफ्तार, रची थी ट्रेन जलाने की साजिश

वर्ष 2002 के गोधरा ट्रेन कांड में मुख्य आरोपी को गुजरात एटीएस ने 14 साल तक फरार रहने के बाद आज गिरफ्तार कर लिया। गोधरा ट्रेन कांड में 59 कार सेवक मारे गए थे। इस ट्रेन कांड के बाद राज्य में बड़े पैमाने पर दंगे भड़क उठे थे ।

गोधरा कांड का मुख्य आरोपी फारुख भाणा 14 साल बाद गिरफ्तार, रची थी ट्रेन जलाने की साजिश

नई दिल्ली: गुजरात एंटी टेररिस्‍ट स्‍क्‍वैड यानी एटीएस ने बुधवार को फारूख भाना को गिरफ्तार कर लिया। फारूख  साबरमती एक्‍सप्रेस में हुई आगजनी का मास्‍टरमाइंड था। गोधरा कांड की साजिश रचने और ट्रेन जलाने का मुख्य आरोपी भाणा साल 2002 से ही फरार चल रहा था।

 

एक एटीएस अधिकारी ने बताया कि फारूक मोहम्मद भाना मुख्य आरोपियों में से एक है जिसने 27 फरवरी 2002 को गोधरा ट्रेन स्टेशन पर ट्रेन को आग लगाने की साजिश रची थी। आतंकवाद रोधी दस्ते के अधिकारियों के अनुसार, घटना के समय भाना गोधरा में पाषर्द था। गिरफ्तारी से बचने के लिए वह मुंबई चला गया और वहां जाकर प्रोपर्टी ब्रोकर बन गया।

 

एटीएस के एक अधिकारी ने बताया, ‘ एक गुप्त सूचना के आधार पर हमने पंचमहल जिले में कलोल कस्बे के समीप एक टोल प्लाजा से भाना को पकड़ लिया । आज वह मुंबई से गोधरा जा रहा था। वह गोधरा कांड का मुख्य साजिशकर्ता है ।’ प्राथमिकी में भाना पर आरोप लगाया गया है कि गोधरा रेलवे स्टेशन के समीप अमन गेस्ट हाउस में अन्य आरोपियों के साथ बैठक के दौरान उसने एस 6 कोच को आग के हवाले करने की साजिश रची थी।

उसने तथा एक अन्य पाषर्द बिलाल हाजी ने कथित रूप से अन्य आरोपियों को मौलाना उमरजी से मिले निर्देशों के अनुसार ट्रेन कोच को आग लगाने को कहा था। उमरजी को घटना के मुख्य साजिशकर्ता के रूप में गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में रिहा कर दिया गया। साबरमती एक्सप्रेस के एस 6 कोच में आग लगने से 59 लोगों की जान चली गयी थी। घटना के बाद राज्य में बड़े पैमाने पर दंगे भड़क उठे थे जिनमें करीब एक हजार लोग मारे गए थे।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.