GOOGLE ने DOODLE बनाकर फारसी कवि, गणितज्ञ और दार्शनिक उमर खैय्याम को किया याद

उमर खय्याम का अंतरिक्ष और ज्योतिष से खास जुड़ाव था और इसी के चलते उन्होंने इन क्षेत्रों में भी काफी काम किया. उन्होंने इसी दिशा में काम करते हुए एक सौर वर्ष (लाइट ईयर) की दूरी दशमलव के छह बिन्दुओं तक पता लगाई. 

GOOGLE ने DOODLE बनाकर फारसी कवि, गणितज्ञ और दार्शनिक उमर खैय्याम को किया याद
साल 2012 में भी सर्च इंजन ने खय्याम का 964वां जन्मदिन भी विशेष डूडल समपíत कर मनाया था.

नई दिल्ली: गूगल ने शनिवार को फारसी गणितज्ञ उमर खय्याम की 971वीं जयंती पर एक रचनात्मक और विशेष डूडल समर्पित किया. उन्हें क्यूबिक इक्वेशन्स के वर्गीकरण और उन्हें हल करने पर अपने काम के लिए जाना जाता है. खय्याम गणित कौशल के अलावा मशहूर ज्योतिर्विद और कवि भी थे.

उनका जन्म 18 मई 1048 को उत्तर पूर्वी ईरान के निशापुर में हुआ था. उनका निधन 04 दिसंबर 1131 को होने के बाद उन्हें खैय्याम गार्डन में दफनाया गया.  पूर्वोत्तर ईरान के निशापुर में जन्मे खय्याम ने अपना अधिकांश जीवन काराखानिद और सेल्जुक शासकों के दरबार में बिताया. क्यूबिक इक्वेशन्स के वर्गीकरण और इन्हें हल करने पर आधारित उनका काम उस दौर का अभूतपूर्व काम है. खय्याम क्यूबिक इक्वेशन्स का आसान हल निकालने वाले पहले व्यक्ति थे. 

उमर खय्याम का अंतरिक्ष और ज्योतिष से खास जुड़ाव था और इसी के चलते उन्होंने इन क्षेत्रों में भी काफी काम किया. उन्होंने इसी दिशा में काम करते हुए एक सौर वर्ष (लाइट ईयर) की दूरी दशमलव के छह बिन्दुओं तक पता लगाई.

लाइव टीवी देखें

साल 2012 में भी सर्च इंजन ने खय्याम का 964वां जन्मदिन भी विशेष डूडल समपíत कर मनाया था. भारत के अलावा, डूडल रूस, मध्य पूर्व, उत्तरी अफ्रीकी देशों, अमेरिका और चिली में गूगल के यूजर्स को नजर आएगा.