close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Google ने आज जोसेफ एंटोनी के सम्मान में बनाया डूडल, जानिए उनके बारे में

जोसेफ एंटोनियो पहले शख्स थे, जिन्होंने मोशन पिक्चर को जन्म दिया था.

Google ने आज जोसेफ एंटोनी के सम्मान में बनाया डूडल, जानिए उनके बारे में
जोसेफ एंटोनियो पहले शख्स थे, जिन्होंने चलचित्र को जन्म दिया था.

नई दिल्ली: गूगल (Google) ने आज अपना डूडल बेल्जियम के भौतिक विज्ञानी जोसेफ एंटोनी फर्डिनेंड (Joseph Antoine Ferdinand Plateau)  को समर्पित किया है. 14 अक्टूबर, 1801 को जन्मे जोसेफ की आज 218वीं जयंती है. जोसेफ एंटोनियो दुनिया के पहले पहले शख्स थे, जिन्हें चलचित्र का जन्मदाता कहा जाता है.

जोसेफ एंटोनियो ने सर्वप्रथम सन 1832 में फेनाकिसटिस्कोप का अविष्कार किया. इस तकनीक से चलती हुई तस्वीरों (मोशन पिक्चर) का भ्रम होता है. इसी से आगे चलकर चलकर आधुनिक सिनेमा का जन्म हुआ.

दरअसल, जोसेफ ने अपनी रिसर्च में इस बात का पता लगाया कि आंखों के रेटिना पर सही रंग, अवधि और तीव्रता वाले चित्र कैसे बनते हैं? इसी खोज के चलते इस भौतिक विज्ञानी ने स्ट्रोबोस्कोपिक उपकरण का अविष्कार किया, जिसमें दो डिस्क शामिल थे. इनमें से एक छोटी समकालिक रेडियल विंडो है, जिसके माध्यम से दर्शक देख सकता था, और दूसरा विंडो जिसमें चित्रों का एक क्रम था. इन्हीं उपकरणों को सिनेमा में इस्तेमाल किया गया.

भौतिकशास्त्री जोसेफ ने 1829 में भौतिक और गणितीय विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की. जोसेफ ने 1827 में ब्रसेल्स में गणित पढ़ाया और बाद में 1835 में जोसेफ गेंट विश्वविद्यालय में भौतिकी के प्रोफेसर नियुक्त हुए थे. 15 सितंबर 1883 को इस महान शख्सियत ने दुनिया को अलविदा कह दिया था.

ये वीडियो भी देखें: