आसाराम केस में 'लापता' महिला गुजरात पुलिस के सामने हुई हाजिर

आसाराम पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली और दो हफ्ते पहले अपने घर से रहस्यमयी तरीके से गायब हुई 33 वर्षीय एक महिला आज सूरत पुलिस के सामने हाजिर हुई।

अहमदाबाद : आसाराम पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली और दो हफ्ते पहले अपने घर से रहस्यमयी तरीके से गायब हुई 33 वर्षीय एक महिला आज सूरत पुलिस के सामने हाजिर हुई।

पुलिस अधीक्षक प्रदीप सेजुल ने कहा, ‘महिला आज सूरत शहर के कामरेज पुलिस थाने में पेश हुई।’ सेजुल ने कहा कि दो हफ्ते पहले सूरत के अपने घर से लापता होने के बाद महिला अहमदाबाद में ठहरी और कल वह मध्यप्रदेश के इंदौर गईं जहां से वह आज लौटी।

उन्होंने कहा, ‘अपने लापता होने के बारे में, उसने पुलिस को बताया कि उसे मिली पुलिस सुरक्षा से उसका सामाजिक जीवन प्रभावित हुआ। उसके मित्र और अन्य लोग उससे अक्सर सुरक्षा के कारण के बारे में पूछते थे। उसके बच्चे को भी स्कूल में सवालों का सामना करना पड़ा। उसने कहा कि यही मुख्य कारण था।’

महिला, उसका पति और बेटा 14 दिसंबर को अपने घर पर तैनात पुलिस कांस्टेबल को यह कहकर गायब हो गये थे कि वह एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे हैं। हालांकि चार दिन बाद सूरत पुलिस को महसूस हुआ कि वह और उसके परिवार का पता नहीं चल रहा है।

महिला के गायब होने से पहले, महिला ने अदालत में याचिका दायर करके मजिस्ट्रेट के सामने बलात्कार मामले में दर्ज बयान बदलने का अनुरोध किया। गांधीनगर अदालत ने 22 दिसंबर को यह याचिका खारिज कर दी थी। महिला ने पिछले वर्ष शिकायत दायर करके आरोप लगाया था कि आसाराम ने अपने आश्रम में 1997 से 2006 के बीच उसका कई बार यौन शोषण किया।