close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुजरात के सूरत में स्केटिंग गरबे की धूम, डांस देखकर हर कोई कहा रहा- वाह

सूरत के इन बच्चों को देख कर आपको पहली नज़र में ऐसा लगेगा की ये बाकी लोगों की तरह ही गरबा कर रहे है लेकिन ऐसा नहीं है. 

गुजरात के सूरत में स्केटिंग गरबे की धूम, डांस देखकर हर कोई कहा रहा- वाह

गुजरात: नवरात्रि का त्यौहार गुजरात में पूरे धूमधाम से मनाया जाता है ये तो हम जानते ही है लेकिन गुजरात के लोग इस दौरान कुछ न कुछ अलग ही करते हैं.  सर पर मटके रख कर गरबा खेल लेते है तो वही कई लोग 4-5 मटकियां एक ऊपर एक रख अपने सिर पर रख कर गरबा खेल लेते हैं. ऐसे कामों में अधिकतर गुजरात के सूरत के लोग हमेशा आगे रहते है. सूरत के कुछ बच्चों ने ऐसे गरबा किया है जिसे देखकर आप हैरान रह जाएंगे. सूरत के इन बच्चों को देख कर आपको पहली नज़र में ऐसा लगेगा की ये बाकी लोगों की तरह ही गरबा कर रहे है लेकिन ऐसा नहीं है.

ये बच्चे आम लोगों की तरह गरबा नहीं कर रहे है बल्कि सूरत के ये बच्चे स्केटिंग पहन कर गरबा कर रहे है. जिस स्केटिंग पर हम और आप ठीक से खड़े नहीं रह पाते है वैसे में ये बच्चे इसे पहन कर एक दम सरलता से गरबा कर रहे है. वो भी गाने की एक एक बीट से ताल मिला कर ये बच्चे गरबा कर रहे है.

आपको बता दें सूरत के ये बच्चे इससे पहले भी स्केटिंग पहन कर डांस करके खूब वाहवाही बटोर चुके है. सूरत के ये बच्चे मामूली गरबे के साथ साथ ढोडिया भी कर रहे है. जबकि कई लोगों के लिए ढोडिया कर पाना भी मुश्किल है मगर सूरत के ये बच्चे मखन की तरह ढोडिया कर रहे है.

कुछ लोगों को पहली बार में ऐसा लगा की इन बच्चो ने पैर में घुंघरू या कुछ पहना होगा लेकिन जब उन्हें बताया गया की ये बच्चे स्केटिंग पहन कर गरबा कर रहे है तो वे दांग रह गए. ये बच्चे जहां भी अपना अनोखा करतब दिखाते है लोग आश्चर्या में पड़ जाते है.

इस प्रकार से जब भी अन्य गरबा खिलाड़ी आभूषणों के साथ तैयार हो कर नवरात्रि के गरबा ग्राउंड में जाते हैं, तो इन बच्चो के लिए उनका विशेष आभूषण उनके स्केटिंग हैं जो उन्हें अन्य सभी से अलग करते हैं. इन बच्चो ने गरबे और ढोडिया के साथ हिपहॉप गरबा भी किया है.

इन बच्चो का टैलेंट वैसे तो काबिले तारीफ है ही मगर इन बच्चो को इसके लिए ट्रैन करने वालो को भी सलाम है जो आए दिन अनोखे टैलेंट के साथ बच्चो को तैयार करते है. फिलहाल तो ये जहां भी जा रहे है वहां के लोगों के लिए वे आकर्षण का केंद्र बन जाते है. आगे देखना होगा की वे क्या और नए अनोखे टैलेंट लेकर आते है.