BREAKING NEWS

Coronavirus: हरियाणा में अंतिम संस्कार में जुट सकेंगे सिर्फ 50 लोग, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

नई एसओपी में अधिकारियों को आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के साथ-साथ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत व्यापक जाँच के बाद उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की भी अनुमति दी गई है

Coronavirus: हरियाणा में अंतिम संस्कार में जुट सकेंगे सिर्फ 50 लोग, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन
फाइल फोटो

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर रविवार को नए दिशानिर्देश जारी किए, जिसमें सरकार ने खुले स्थानों और घर के अंदर होने वाले कार्यक्रमों तथा अंतिम संस्कार में शामिल होने वाले लोगों की संख्या को सीमित कर दिया है. नए दिशानिर्देशों के अनुसार, घर के अंदर होने वाले कार्यक्रमों में अधिकतम 200 लोगों की अनुमति है, तो वहीं बाहर होने वाले कार्यक्रमों के लिए अधिकतम लोगों की संख्या 500 तय की गई है. अंतिम संस्कार में अधिकतम 50 लोगों को उपस्थित होने की अनुमति दी जाएगी.  इससे पहले, कार्यक्रमों में लोगों की सीमा गुड़गांव और फरीदाबाद में लागू की गई थी.

बिना अनुमति किसी भी कार्यक्रम की इजाजत नहीं

राज्य सरकार ने कहा कि नई मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के तहत सामाजिक, शैक्षणिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक और राजनीतिक समारोहों के आयोजकों को जिला मजिस्ट्रेटों से अनुमति लेनी होगी. जिला मजिस्ट्रेट संबंधित विभागों से अनापत्ति प्रमाण पत्र मिलने के बाद ही कार्यक्रमों के लिए अनुमति जारी करेंगे.

ये भी पढ़ें: 50 करोड़ से ज्यादा Facebook खातों की जानकारी हैकर्स की साइट पर मौजूद, इस रिपोर्ट में दावा

3184 लोगों की जा चुकी है जान

नई एसओपी में अधिकारियों को आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के प्रावधानों के साथ-साथ भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत व्यापक जाँच के बाद उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की भी अनुमति दी गई है. हरियाणा में शनिवार को कोविड​​-19 से 10 लोगों की मौत हुई थी, जिससे राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,184 हो गई. कोरोना वायरस संक्रमण के 1,959 नए मामले सामने आने से राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 2,96,229 हो गए.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.