close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रद्युम्न हत्‍याकांड: बस कडंक्टर ने कहा, 'मुझे बलि का बकरा बनाया, पुलिस पर करूंगा मुकदमा'

गुरुग्राम के रायन स्कूल में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. सीबीआई और हरियाणा पुलिस, दोनों ने ही पुख्ता सबूत पेश करते हुए अलग-अलग लोगों को हत्याकांड का आरोपी बनाया है.

प्रद्युम्न हत्‍याकांड: बस कडंक्टर ने कहा, 'मुझे बलि का बकरा बनाया, पुलिस पर करूंगा मुकदमा'
रायन स्कूल में दूसरी कक्षा के छात्र की गला काट कर हत्या कर दी गई थी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: गुरुग्राम के रायन स्कूल में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. सीबीआई और हरियाणा पुलिस, दोनों ने ही पुख्ता सबूत पेश करते हुए अलग-अलग लोगों को हत्याकांड का आरोपी बनाया है. सीबीआई द्वारा नए खुलासे के बाद जहां हरियाणा पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लग रहे हैं, वहीं नए आरोपी छात्र के परिजनों ने आरोप लगाया है कि सीबीआई स्कूल को बचाने के लिए झूठी कहानी गढ़ रही है. उधर, सीबीआई द्वारा 11वीं के छात्र को आरोपी बनाए जाने पर हरियाणा पुलिस द्वारा बनाए आरोपी स्कूल बल के कंडक्टर अशोक कुमार ने कहा कि पुलिस ने उसे बलि का बकरा बनाया है, बुरी तरह यातनाएं देकर उससे गुनाह कबूल करने के लिए मजबूर किया गया. कंडक्टर के परिजनों ने हरियाणा पुलिस के खिलाफ केस करने की बात कही है. 

सीबीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, सीबीआई आरोपी छात्र को एक बार फिर स्कूल में ले जाकर मामले की जांच कर सकती है. जुवेनाइल जस्टिस कोर्ट में सीबीआई ने आरोपी छात्र के खिलाफ सभी सबूत पेश कर दिए हैं. छात्र फिलहाल सीबीआई के पास तीन दिन की रिमांड पर है. सीबीआई ने पुलिस की थयोरी को पलटे हुए नए सिरे से मामले की जांच की और एक नया आरोपी सामने ला खड़ा कर दिया. सीबीआई का दावा है कि आरोपी छात्र ने अपने पिता, स्वतंत्र गवाह और अन्य अधिकारियों के सामने अपना अपराध कबूल कर लिया है. अब सीआरपीसी की धारा-165 के तहत आरोपी के बयान दर्ज किए जाएंगे, जो पूरे मामले में पुख्ता सबूत बनेंगे. 

फिर से दोहराया गया मर्डर सीन, आरोपी ने बताई हैरान करने वाली सच्‍चाई

उधर, आरोपी छात्र के वकील प्रकाश चंद्र ने सीबीआई की पूरी जांच पर सवाल खड़े किए हैं. प्रकाश चंद्र ने बताया कि सीबीआई स्कूल प्रबंधन को बचाने के लिए छात्र के खिलाफ झूठी कहानी रच रही है. उन्होंने कहा कि जांच अधिकारियों ने नियमों के खिलाफ जाकर छात्र से देर रात पूछताछ की, जोकि सरासर गलत है. 

सीबीआई, हरियाणा पुलिस और आरोपी छात्र की इस उलझन भरी कहानी के बीच हरियाणा पुलिस द्वारा आरोपी बनाया गया बस के कंडक्टर ने भी पुलिस के खिलाफ बयान दिए हैं. कंडक्टर अशोक कुमार ने कहा कि पूरे मामले में पुलिस ने उसे बलि का बकरा बनाया है. उसने कहा कि वह पुलिस और स्कूल प्रशासन के अत्याचार के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाएगा. अशोक के वकील मोहित वर्मा ने कहा कि पुलिस ने असली कसूरवारों को बचाने के लिए कंडक्टर अशोक को फंसाया गया है. वकील ने कहा कि वह सीबीआई की फाइनल रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं. रिपोर्ट के बाद वह हरियाणा पुलिस और स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मानहानि तथा उत्पीड़न का मामला दायर करेंगे. वकील ने कहा कि पुलिस ने अशोक को भारी मात्रा में ड्रग्स दी थी और उसको बुरी तरह टार्चर किया था, ताकि वह इस गुनाह को अपने सिर ले ले. अशोक ने पुलिस उत्पीड़न के कारण यह गुनाह कबूल कर लिया था.  

इस मामले में सीबीआई गिरफ्तार छात्र के अलावा अन्य एक छात्र से भी पूछताछ कर रही है. जांच अधिकारियों ने उस पीटी टीचर और माली से भी पूछताछ की, जिनको आरोपी छात्र ने घटना के बारे में सबसे पहले बताया था.