close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IFFCO का सिरियस मिनरल्‍स से करार, अब फसलों को मिलगा 'प्राकृतिक छप्‍पन भोग' POLY4

इफको, सिरियस से सालाना 10 लाख टन पॉली 4 का आयात करेगी. यह समझौता 8 वर्षों के लिए किया गया है.

IFFCO का सिरियस मिनरल्‍स से करार, अब फसलों को मिलगा 'प्राकृतिक छप्‍पन भोग' POLY4
भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा उर्वरक बाजार है.

नई दिल्ली: सहकारिता क्षेत्र की दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी इंडियन फारमर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव लिमिटेड (इफको) ने उर्वरक क्षेत्र में पोषण जरुरतों को पूरा करने के लिए सिरियस मिनरल्स पीएलसी से पॉली 4 (POLY4) के आयात के लिए समझौता किया है. इफको, सिरियस से सालाना 10 लाख टन पॉली 4 का आयात करेगी. यह समझौता 8 वर्षों के लिए किया गया है. आपसी सहमति से पॉली 4 का आयात 12.5 लाख टन भी किया जा सकता है.  

भारत विश्व का तीसरा सबसे बड़ा उर्वरक बाजार है. देश में सालाना करीब तीन करोड़ टन की खपत होती है. देश की बढ़ती जनसंख्या की खाद्य जरुरतों को पूरा करने के लिए देश में तेजी से उर्वरकों की मांग बढ़ रही है. दोनों कंपनियों के बीच इस समझौते से फसलों की उत्पादकता बढ़ सकेगी. सिरियस के प्रबंध निदेशक क्राइस फ्रेसर ने इफको के साथ लंबी अवधि के समझौते पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि पॉली4 भारतीय कृषि पर सकारात्मक असर होगा. किसानों को इसका लाभ वर्षों तक मिलेगा. 
 
सिरियस के एमडी और सीईओ क्रिस फ्रेजर का कहना है, "हम इफको के साथ समझौता करके बहुत खुश हैं. पॉली4 का निश्चित रूप से भारत के कृषि क्षेत्र में सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. हम इफको के साथ मिलकर आगामी वर्षों से भारतीय किसानों के लिए बेहतर काम करेंगे.' 

उधर, इफको के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सह प्रबंध निदेशक यूएस अवस्थी ने कहा, "पॉली4 एक अद्भुत अवसर उपलब्धत कराता है जिससे फसलों की उत्पादकता बढ़ेगी और किसानों को आर्थिक लाभ होगा. पॉली4 में बहु पोषण क्षमता है जिससे मिट्टी को वर्षों तक फायदा होता है. इससे संतुलित उर्वरक का उपयोग होगा जो कि इफको की पहल है. इससे वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुनी करने के लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी."