नहीं गिराई जाएगी लुइस कान की डिजाइन की गईं इमारतें, IIM अहमदाबाद ने वापस लिया फैसला

पूर्व छात्र और देश विदेश के आर्किटेक्ट संगठनों द्वारा भारी विरोध जताए जाने के बाद आईआईएम अहमदाबाद ने अपने उस फैसले को वापस ले लिया है जिसमें संस्थान ने अमेरिकी आर्किटेक्ट लुइस कान द्वारा डिजाइन की गई 14 डॉरमेट्री को ध्वस्त करने की बात कही थी.

नहीं गिराई जाएगी लुइस कान की डिजाइन की गईं इमारतें, IIM अहमदाबाद ने वापस लिया फैसला
फाइल फोटो.

अहमदाबाद: भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) अहमदाबाद ने 1960 के दशक में अमेरिकी आर्किटेक्ट लुइस कान (Louis Kahn) द्वारा डिजाइन की गई 14 डॉरमेट्री को ध्वस्त करने के प्रस्ताव को वापस ले लिया है.

दरअसल, इंटरनेशनल काउंसिल फॉर मॉन्यूमेंट्स एंड साइट्स (ICOMOS) ने IIM अहमदाबाद की गवर्निंग काउंसिल से संस्थान की डॉरमेटरी इमारतों को ध्वस्त करने की योजना को छोड़ने या फिलहाल इसे रोकने के लिए पत्र लिखा था. जिस पर संज्ञान लेते हुए IIM ने फिलहाल नए भवन के निर्माण पर रोक लगा दी है. संस्थान ने कहा कि वह विकल्पों को खंगालेगा और आगे की कार्रवाई पर फैसला करेगा.

ये भी पढ़ें:- संजय राउत की पत्‍नी के अकाउंट में 2 हिस्‍सों में पहुंचे पैसे, ED की जांच में खुलासा

गौरतलब है कि विश्व प्रसिद्ध आर्किटेक्ट कान को प्रख्यात वैज्ञानिक विक्रम साराभाई ने कई भवनों की डिजाइन के लिए 1960 के दशक में भारत आमंत्रित किया था. और आईआईएम अहमदाबाद का भवन भी उनके द्वारा डिजाइन की गई कुछ निशानियों में से एक है. इसी कारण प्रबंधन संस्थान के पूर्व छात्रों, भारत और विदेशों के आर्किटेक्ट संगठनों और कान के परिवार के सदस्यों ने भी डॉरमेट्री को तोड़े जाने के फैसले पर आपत्ति जताई थी. 

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.