सार्क बैठक: विदेश मंत्री जयशंकर ने PAK को बताया आतंकवाद का प्रायोजक, कही ये बड़ी बात

भारत ने गुरुवार को दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के सदस्य देशों से सीमा पार से पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद को सामूहिक रूप से हराने का आह्वान किया. 

सार्क बैठक: विदेश मंत्री जयशंकर ने PAK को बताया आतंकवाद का प्रायोजक, कही ये बड़ी बात
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: भारत ने गुरुवार को दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (SAARC) के सदस्य देशों से सीमा पार से पाकिस्तान (Pakistan) प्रायोजित आतंकवाद को सामूहिक रूप से हराने का आह्वान किया. सार्क काउंसिल ऑफ मिनिस्टर्स की वार्षिक अनौपचारिक बैठक वर्चुअली हुई, जिसमें विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S Jaishankar) ने अप्रत्यक्ष रूप से पाकिस्तान पर निशाना साधा.

उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना ही सदस्य देशों से आग्रह किया कि, 'वे सामूहिक रूप से आतंकवाद के संकट को हराने पर प्रतिबद्धता जताएं, जो दक्षिण एशिया में सामूहिक सहयोग और समृद्धि के सार्क के उद्देश्य को बाधित करता है, जिसमें बलों को समर्थन देना और आतंकवाद के माहौल को प्रोत्साहित करना शामिल है.’

ये भी पढ़ें- नेपाल में भूस्खलन की चपेट में आने से 12 व्यक्तियों की मौत, 9 अब भी लापता

बैठक की अध्यक्षता नेपाल ने की, जिसमें सार्क के सभी सदस्य अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका शामिल थे. एक आधिकारिक बयान के अनुसार, जयशंकर ने एक सुरक्षित, समृद्ध और समग्र दक्षिण एशिया के निर्माण में सार्क के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया.

उन्होंने कहा कि सार्क कोविड-19 आपात फंड में भारत के योगदान के तहत 23 लाख डॉलर की जरूरी दवाइयां, मेडिकल सामग्री, कोविड प्रोटेक्शन और टेस्टिंग किट और अन्य सामग्रियां सार्क देशों को उपलब्ध कराई गईं. उन्होंने महामारी पर काबू पाने के लिए सार्क क्षेत्र के देशों के साथ सहयोग जारी रखने की प्रतिबद्धता दोहराई.

ये भी देखें-