#ArmyDay पहली बार महिला ऑफिसर ने किया परेड को लीड, जानिए इनके बारे में

आज का सेना दिवस समारोह इसलिए भी खास रहा क्योंकि पहली बार कोई महिला ऑफिसर परेड एडजुटेंट (Adjudent) के रूप में शामिल हुईं.

#ArmyDay पहली बार महिला ऑफिसर ने किया परेड को लीड, जानिए इनके बारे में

नई दिल्ली: सेना दिवस 2020 (Army Day 2020) के मौके पर आज दिल्ली छावनी स्थित परेड ग्राउंड में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने परेड की सलामी ली. सेना प्रमुख ने इस मौके पर जवानों को सम्मानित भी किया. आज का सेना दिवस समारोह इसलिए भी खास रहा क्योंकि पहली बार कोई महिला ऑफिसर परेड एडजुटेंट (Adjudent) के रूप में शामिल हुईं. जिन्होंने सेना दिवस की परेड में सभी पुरुष कॉन्टिजेंट्स को लीड किया. यह सम्मान पाने वाली पहली महिला ऑफिसर बनीं कैप्टन तान्या शेरगिल (Tanya Shegill)

तान्या शेरगिल सेना सिग्नल्स कोर्प में तैनात हैं. मार्च 2017 में उन्हें ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी चेन्नई से कमीशन मिला. तान्या ने इलेक्ट्रोनिक्स एंड कम्यूनिकेशंस में बीटेक किया है. इनके पिताजी सेना की 101 मीडियम रेजिमेंट में रहे, वहीं तान्या के दादाजी आर्म्ड रेजिमेंट और परदादा सिख रेजिमेंट में रहे हैं. 

बता दें कि पिछले साल गणतंत्र दिवस की परेड में पहली बार एक महिला अधिकारी लेफ्टिनेंट भावना कस्तूरी ने सेना सेवा कोर के दस्ते की अगुवाई की थी. 

आर्मी डे के मौके पर सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने अपने संबोधन में पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी. सेना प्रमुख ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा, 'आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए हमारे पास बहुत विकल्प हैं. हमारी नजर दुनिया में होने वाली हर गतिविधि पर है. आतंकवाद के खिलाफ हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है, आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने से हिचकिचाएंगे नहीं. सैनिक ही भारतीय सेना की सबसे बड़ी ताकत है' 

यह भी पढ़ें- #ArmyDay पर सेना प्रमुख की पाकिस्तान को चेतावनी, 'आतंकवाद का जोरदार जवाब देगी सेना'

जनरल नरवणे ने सैनिको को आश्वस्त करते हुए कहा, 'आप निश्चिंत रहें कि सरकार आपकी जंगी जरूरतों को हर हाल में पूरा करेगी. भारतीय सेना और असम राइफल की मुस्तैदी की वजह से पूर्वोत्तर में सुरक्षा हालात में सुधार आया है. वहां अलगाववादी पर कड़ी नजर रखी जा रही है. सेना प्रमुख ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना ऐतिहासिक कदम था.'

ये वीडियो भी देखें: