close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पलक झपकते ही भारतीय नौसेना के टोही विमान ने चीन की पकड़ी चोरी, हर हरकत पर रखे है नजर

भारतीय नौसेना ने इस महीने के शुरुआत में हिंद महासागर ( Southern Indian Ocean )के दक्षिणी हिस्से में निगरानी के दौरान चीन के ऐम्फीबियस युद्धपोत की पहचान की. 

पलक झपकते ही भारतीय नौसेना के टोही विमान ने चीन की पकड़ी चोरी, हर हरकत पर रखे है नजर
फोटो साभार: ANI

नई दिल्ली: भारतीय नौसेना ने इस महीने के शुरुआत में हिंद महासागर ( Southern Indian Ocean )के दक्षिणी हिस्से में निगरानी के दौरान चीन के ऐम्फीबियस युद्धपोत की पहचान की. रक्षा सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी. नौसेना के पी-8आई सर्विलांस विमान ने लैंडिंग प्लेटफार्म डॉक (एलपीडी) युद्धपोत की पहचान की. नौसेना सूत्रों के अनुसार, चीनी जहाज नियमित रूप से इस मार्ग का प्रयोग करता है, जो अफ्रीका व खाड़ी देशों की यात्रा के लिए मलक्का जल डमरू मध्य से शुरू होता है. एक वरिष्ठ नौसेना अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, "एलपीडी सैन्य उपकरण जैसे ट्रक, टैंकों व जीप को ले जाने में सक्षम है.

यह बड़ी संख्या में हेलीकॉप्टरों को भी ले जा सकता है. जहाज इस मार्ग से गुजरता है और नियमित तौर पर देखा जाता है. यह अफ्रीका व खाड़ी के देशों के लिए चीनी जहाजों के लिए उपलब्ध एक मात्र रास्ता है." सूत्रों ने कहा कि एलपीडी जहाज की तस्वीरें निगरानी विमान की मदद से ली गईं.

चीन-पाकिस्तान की सांठगांठ पर है 'रॉ' की नजर
अरब सागर में चीन और पाकिस्तान की सांठगांठ के बढ़ते प्रभाव पर शिकंजा कसने की कोशिश में भारत की वैदेशिक खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) समुद्री खुफिया तंत्र को मजबूत बना रही है. एजेंसी अरब सागर क्षेत्र को लेकर ज्यादा चौकस है. आठ महीने महले मालदीव के तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामी के कार्यकाल में मालदीव की राजधानी माले पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) का विदेशी केंद्र बन गया था.

इनपुट आईएएनएस से भी