समुद्र में चीनी पनडुब्बियों का निकलेगा दम, भारत खरीदने जा रहा ये खतरनाक हथियार
X

समुद्र में चीनी पनडुब्बियों का निकलेगा दम, भारत खरीदने जा रहा ये खतरनाक हथियार

दुनिया में बढ़ते चीनी खतरे को देखते हुए चुनौतियों को देखते हुए भारतीय नौसेना (Indian Navy) भी अपनी तैयारियां बढ़ाने में जुटी है. अब वह चीनी पनडुब्बियों को सबक सिखाने के लिए बड़ा हथियार खरीदने जा रही है.

समुद्र में चीनी पनडुब्बियों का निकलेगा दम, भारत खरीदने जा रहा ये खतरनाक हथियार

नई दिल्ली: दुनिया में बदलते परिदृश्य और वैश्विक चुनौतियों को देखते हुए भारतीय नौसेना (Indian Navy) भी अपनी तैयारियां बढ़ाने में जुटी है. इसके लिए रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका के साथ बड़ा करार किया है.

54 टॉरपीडो की खरीद के लिए हुआ करार

मंत्रालय के मुताबिक भारतीय नौसेना (Indian Navy) के पनडुब्बी रोधी युद्धक विमान (Anti-Submarine Plane) पी-8आई को और घातक बनाया जाएगा. इसके लिए 423 करोड़ रुपये की लागत से एमके 54 टॉरपीडो की खरीद की जाएगी. साथ ही चाफ और फ्लेयर्स जैसे एक्सपेंडेबल भी खरीदे जाएंगे. इसके लिए अमेरिका की सरकार के साथ करार किया गया है. 

और खतरनाक हो जाएंगे P-8I प्लेन

मंत्रालय के प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा,  ‘रक्षा मंत्रालय ने भारतीय नौसेना के लिए 423 करोड़ रुपये की लागत पर एमके 54 टॉरपीडो और एक्सपेंडेबल (चाफ तथा फ्लेयर्स) की खरीद के लिए विदेश सैन्य बिक्री (FMS) के तहत अमेरिका की सरकार के साथ करार पर हस्ताक्षर किए हैं.’ उन्होंने कहा कि ये उपकरण पी-8आई विमान के साजो-सामान हैं.’

ये भी पढ़ें- चीन के साथ सीमा मुद्दों पर चल रही बातचीत के बीच आर्मी चीफ ने कही ये बड़ी बात

इंडियन नेवी के पास कुल 11 विमानों का बेड़ा

बताते चलें कि भारतीय नौसेना (Indian Navy) के बेड़े में कुल 11 पी-8आई विमान (P-8I Plane) हैं. इन विमानों का उत्पादन अमेरिकी वैमानिकी कंपनी बोइंग ने किया है. पी-8आई विमान को इसकी पनडुब्बी रोधी युद्धक क्षमताओं के साथ ही आधुनिक समुद्री टोही क्षमताओं के लिए भी जाना जाता है. इंडो-पैसिफिक एरिया में चीनी पनडुब्बियों से बढ़ रही चुनौती से निपटने के लिए इस सौदे को खासा अहम माना जा रहा है. 

LIVE TV

Trending news