close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'मेक इन इंडिया' का जलवा, दुनियाभर में भारत की बनी बुलेटप्रूफ जैकेट की मांग

बताया जा रहा है कि भारत ने 100 से ज्यादा देशों को राष्ट्रीय मानक की बुलेटप्रूफ जैकेट का निर्यात शुरू कर दिया है. 

'मेक इन इंडिया' का जलवा, दुनियाभर में भारत की बनी बुलेटप्रूफ जैकेट की मांग
अमेरिका, ब्रिटेन और जर्मनी के बाद भारत चौथा देश है, जो राष्ट्रीय मानकों पर ही अंतरराष्ट्रीय स्तर की बुलेटप्रूफ जैकेट बनाता है.

नई दिल्ली: मोदी सरकर भारतीय सेना के आधुनिकीकरण में जुटी है. बीते पांच साल में मोदी सरकार ने जल, थल और वायुसेना को मजबूत बनाने की तरफ मजबूती से कदम बढ़ाए हैं. भारतीय सेनाओं को मजबूत करने का संकल्प भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने 'मेक इन इंडिया' अभियान के तहत लिया है. मोदी सरकार सेना की यूनिट्स को सबसे पहले आधुनिक हथियार, रात निगरानी के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट जैसे सुरक्षा के उपाय उपलब्ध कराने के लिए मिशन मोड में जुट चुकी है. सीजफायर का उल्लंघन करने वाले पाकिस्तान की खटिया खड़ी होना तय है. 

पीएम मोदी ने रक्षा क्षेत्र में 'मेक इन इंडिया' को बढ़ावा देने की जो कवायद शुरू कि उसी की बदौलत आज दुनियाभर में भारत में बनी बुलेटप्रूफ जैकेट की मांग बढ़ चली है. बताया जा रहा है कि भारत ने 100 से ज्यादा देशों को राष्ट्रीय मानक की बुलेटप्रूफ जैकेट का निर्यात शुरू कर दिया है. भारत की मानक संस्था बीआईएस यानी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड के मुताबिक बुलेटप्रूफ जैकेट खरीददारों में कई यूरोपीय देश भी शामिल हैं. 

बीआईएस के उपनिदेशक राजेश बजाज ने हाल ही में एक कार्यक्रम बताया कि अमेरिका, ब्रिटेन और जर्मनी के बाद भारत चौथा देश है, जो राष्ट्रीय मानकों पर ही अंतरराष्ट्रीय स्तर की बुलेटप्रूफ जैकेट बनाता है. 2018 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नीति आयोग के निर्देश के बाद बीआईएस ने बुलेटप्रूफ जैकेट के लिए मानक तैयार किया था.

भारत में बनी इस जैकेट की सबसे बड़ी खासियत यह है यह 360 डिग्री सुरक्षा के लिए जानी जाती है. इतना ही नहीं, भारत के बख्तरबंद रेजीमेंटों में मुख्य रूप से शामिल टी-72 और टी-90 टैंकों की तोपों की 125 मिली मीटर के विशेष गोले देश में बने हैं.