IRDAI का बीमा कंपनियों को आदेशः कोरोना कवच के लिए ग्राहकों को न कराएं इंतजार

भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने बीमा कंपनियों से कोरोना कवच (Corona armor) या कोरोना रक्षक पॉलिसियों के नवीनीकरण पर बीमित व्यक्ति को लेकर 15 दिन की प्रतीक्षा (Waiting Time) नहीं लगाने के लिए कहा है. 

IRDAI का बीमा कंपनियों को आदेशः कोरोना कवच के लिए ग्राहकों को न कराएं इंतजार
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्लीः भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने बीमा कंपनियों से कोरोना कवच (Corona armor) या कोरोना रक्षक पॉलिसियों के नवीनीकरण पर बीमित व्यक्ति को लेकर 15 दिन का वक्त (Waiting Time) नहीं लगाने के लिए कहा है. इरडा ने एक परिपत्र में कहा कि ग्राहकों को किसी भी अवधि की कोरोना कवच और कोरोना रक्षक पॉलिसियों का नवीनीकरण साढ़े तीन माह, साढ़े छह माह और साढ़े नौ माह की अवधि में कराने का विकल्प मिलना चाहिए. हालांकि पॉलिसी धारक को पॉलिसी का नवीनीकरण मौजूदा पॉलिसी के समाप्त होने से पहले कराना होगा.

लगातार जारी रहें कोरोना रक्षक पॉलिसियां
इरडा ने कहा कि पॉलिसी के नवीनीकरण में अतिरिक्त 15 दिन का इंतजार कराना चाहिए और पॉलिसी का लाभ लगातार जारी रहना चाहिए. इन पॉलिसियों का नवीनीकरण 31 मार्च 2021 तक की अवधि के लिए करने की अनुमति है. उल्लेखनीय है कि बीमा कंपनियों ने लघु अवधि की कोरोना कवच और कोरोना रक्षक पॉलिसियां जारी की थीं.

ये भी पढ़ें- मौसमी बीमारियों की दस्तक, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी की नई गाइडलाइंस

यह पॉलिसियां साढ़े तीन महीने, साढ़े छह महीने या साढ़े नौ महीने की अवधि के लिए जारी की थीं. इन पॉलिसियों को कोरोना वायरस के इलाज पर होने वाले व्यय पर बीमा सुरक्षा देने के लिए तैयार किया गया था. इरडा ने एक परिपत्र में कहा कि बीमा कंपनियां ग्राहकों को पॉलिसी के नवीनीकरण, स्थानांतरण और पोर्टिबिलिटी का विकल्प भी देना चाहिए.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.