भारत के खिलाफ ISI रच रही है बड़ी साजिश, जेल में बंद अपराधियों का कर सकती है इस्तेमाल

जी मीडिया के हाथ एक ऐसी जानकारी लगी है जो पाकिस्तान के नापाक इरादों को दुनिया के सामने ला देगी.

भारत के खिलाफ ISI रच रही है बड़ी साजिश, जेल में बंद अपराधियों का कर सकती है इस्तेमाल
आईएसआई पाकिस्तान की कई जेलों में बंद डकैतों और लूटेरों को भारतीय सेना पर हमले के लिए तैयार कर रही है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

के.एम. मिश्रा, नई दिल्ली: भारत के खिलाफ पाकिस्तान की साजिशें इन दिनों एक-एक कर खुल रही हैं. पहले हाफिज सईद का रोजे के दौरान 'कश्मीर एजेंडा' सामने आया फिर एक गिरफ्तार आतंकी जैदुल्लाह के कबूलनामे ने पाकिस्तान की पूरी कलई खोल कर रख दी. जैदुल्लाह ने कैमरे के सामने कबूल किया कि उसकी ट्रेनिंग पाक अधिकृत कश्मीर में हुई थी. यही नहीं उसके पाकिस्तान और अरब देशों से होने वाली आतंकी फंडिंग का भी खुलासा किया था. अब जी मीडिया के हाथ एक ऐसी जानकारी लगी है जो पाकिस्तान के नापाक इरादों को दुनिया के सामने ला देगी.

आईएसआई रच रही है बड़ी साजिश
जी मीडिया को मिली खुफिया जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई भारत के खिलाफ बड़ी साजिश रच रही है. बताया जा रहा है कि आईएसआई पाकिस्तान की कई जेलों में बंद डकैतों और लूटेरों को भारतीय सेना पर हमले के लिए तैयार कर रही है. आईएसआई अब ऐसे अपराधियों को ट्रेनिंग दे रही है जो जेलों में बंद हैं. सेना पर हमले के लिए जरूरी ट्रेनिंग और हथियार भी इन अपराधियों को आईएसआई ही मुहैया कराएगी.

जेल में बंद अपराधियों का होगा इस्तेमाल
खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आईएसआई जेल में बंद इन अपराधियों का इस्तेमाल एलओसी (लाइन ऑफ कंट्रोल) पर बने भारतीय सेना के पोस्ट पर हमले के लिए कर सकती है. माना जा रहा है कि ये अपराधी भारतीय सीमा में घुसकर सेना के गश्ती दल पर पीछे से हमला कर सकते हैं. भारतीय सीमा में घुसकर ये अपराधी बैट एक्शन को भी अंजाम दे सकते हैं.

भारतीय सेना पर हमले के बदले कम की जाएगी अपराधियों की सजा
आईएसआई द्वारा जेल में बंद ऐसे दुर्दांत अपराधियों को भारतीय सेना पर हमले के लिए उकसाने के लिए नगद इनाम और जेल की सजा कम करवाने का भी प्रलोभन दिया गया है. जानकारी के मुताबिक अगर ये अपराधी भारतीय सेना पर हमला करने और उनके हथियार छीन पाने में सफल होते हैं तो उन अपराधियों को नगद पुरस्कार के साथ-साथ उनकी जेल की सजा भी कम की जा सकती है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.