कोरोना काल में आतंकी साजिशों को अंजाम देने के लिए ISIS ने बनाया यह प्लान

कोरोना (Corona Virus) काल में जब ज़्यादातर काम ऑनलाइन हो रहे हैं, आतंकवादियों की भर्ती भी ऑनलाइन शुरू हो गई है.

कोरोना काल में आतंकी साजिशों को अंजाम देने के लिए ISIS ने बनाया यह प्लान
फाइल फोटो
Play

नई दिल्ली: कोरोना (Corona Virus) काल में जब ज़्यादातर काम ऑनलाइन हो रहे हैं, आतंकवादियों की भर्ती भी ऑनलाइन शुरू हो गई है. आतंकी संगठन ISIS न केवल ऑनलाइन आतंकियों की भर्ती कर रहा है, बल्कि उन्हें यह भी सिखा रहा है कि इंटरनेट का उपयोग करते समय सुरक्षा एजेंसियों के रडार से कैसे बचा जाए. भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने एक बैठक में इस विषय पर चिंता जाहिर की है. 

दरअसल, मई में प्रकाशित ISIS से जुड़ी The Supporter's Security नाम की एक साइबर सिटी मैगजीन में ऐसा बहुत कुछ छपा है, जिसने सुरक्षा एजेंसियों के कान खड़े कर दिए हैं. मैगजीन बताती है कि सुरक्षा एजेंसियों की नजरों से बचने के लिए सोशल मीडिया पर क्या सावधानियां बरती जानी चाहीं. 24 पृष्ठ की इस मैगजीन में यह भी बताया गया है कि स्मार्टफोन और कंप्यूटर का उपयोग करते समय कैसे सतर्क रहना चाहिए.

इस रिपोर्ट के बाद से, आतंकवादी संगठनों की ऑनलाइन गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है.  साइबर सिक्योरिटी पर नजर रखने वाले अधिकारियों के अनुसार, टेलीग्राम चैनल के कुछ संदेशों को इंटरसेप्ट किया गया है, जिसमें जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों पर हमले की बात है. पहचान किये गए टेलीग्राम, ट्विटर और व्हाट्सएप ग्रुप के सभी एडमिन पाकिस्तान से हैं, जो सुरक्षा बलों पर हमला करने के लिए जम्मू-कश्मीर में अपने संगठन से जुड़े लोगों को निर्देशित कर रहे हैं.

जिहाद फैलाने की साजिश
विशेषज्ञों के अनुसार, ISIS एक विशेष वीडियो गेम के माध्यम से जिहाद फैलाने की साजिश भी रच रहा है, जिसे लेकर सुरक्षा एजेंसियां चिंतित हैं. ISIS ने अप्रैल में अपनी ऑनलाइन पत्रिका "द वॉइस ऑफ हिंद" में प्रकाशित लेख में अपने समर्थकों को कोरोना महामारी के बीच हमला करने के लिए उकसाया था. इससे पहले 2020 में, बांग्लादेश में संचालित AlQaeda ने भी एक वेबसाइट के माध्यम से भारत में लोन वुल्फ हमले (Lone Wolf attack) की चेतावनी दी थी. अलकायदा ने हिंदू संगठनों और भारत सरकार के शीर्ष अधिकारियों पर लोन वुल्फ हमले करना चाहता है. 

पाक की बौखलाहट की वजह
जब से केंद्र सरकार ने धारा 370 हटाई है, पाकिस्तान लगातार जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमलों की बड़ी साजिश में लगा हुआ है. जानकारी के अनुसार, 400 से अधिक आतंकवादी नियंत्रण रेखा (LOC) से सटे लॉन्चिंग पैड पर जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करने के लिए तैयार हैं. वहीं, हाल ही में अस्तित्व में आया आतंकी संगठन ‘द रेजिस्टेंस फ्रंट’ भी भारतीय सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की फिराक में है.