इसरो ने 48 घंटे के लिए टाली काटरेसैट-3 की लॉन्चिंग, अब इस दिन होगा लॉन्च

 भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को कहा कि उसने काटरेसैट-3 सैटेलाइट और 13 वाणिज्यिक नैनो सैटेलाइटों को पीएसएलवी रॉकेट से अंतरिक्ष में लॉन्च का कार्यक्रम 28 घंटे यानी कि दो दिन आगे बढ़ा दिया है. अब ये सैटेलाइट 27 नवंबर को लॉन्च किए जाएंगे. इसरो के अनुसार, काटरेसैट-3 को ले जाने वाले पीएसएलवी-एक्सएल वैरियंट को अब 27 नवंबर को सुबह 9.28 बजे लॉन्च किया जाएगा. 

इसरो ने 48 घंटे के लिए टाली काटरेसैट-3 की लॉन्चिंग, अब इस दिन होगा लॉन्च
(फाइल फोटो)

चेन्नई: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को कहा कि उसने काटरेसैट-3 सैटेलाइट और 13 वाणिज्यिक नैनो सैटेलाइटों को पीएसएलवी रॉकेट से अंतरिक्ष में लॉन्च का कार्यक्रम 28 घंटे यानी कि दो दिन आगे बढ़ा दिया है. अब ये सैटेलाइट 27 नवंबर को लॉन्च किए जाएंगे. इसरो के अनुसार, काटरेसैट-3 को ले जाने वाले पीएसएलवी-एक्सएल वैरियंट को अब 27 नवंबर को सुबह 9.28 बजे लॉन्च किया जाएगा. 

पीएसएलवी-एक्सएल वैरियंट को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा रॉकेट पोर्ट से लॉन्च किया जाएगा. इससे पहले इसरो ने कहा था रॉकेट 25 नवंबर को सुबह 9.28 बजे लॉन्च किया जाएगा.

काटरेसैट-3 उपग्रह तीसरी पीढ़ी का उन्नत उपग्रह है, जिसमें हाई रिजोल्यूशन की इमेजिंग क्षमता है. उपग्रह को 97.5 डिग्री के झुकाव पर 509 किमी की कक्षा में स्थापित किया जाएगा.

इसरो के अनुसार, अमेरिका के 13 नैनो उपग्रह न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) के साथ वाणिज्यिक व्यवस्था का एक हिस्सा हैं. एनएसआईएल कंपनी हाल ही में अंतरिक्ष विभाग के तहत स्थापित की गई है.