close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RISAT-2B से मजबूत होगी भारत की खुफिया क्षमता, ISRO बुधवार को करेगा लॉन्च

भारत की एक अन्य 'आरआईएसएटी-2बीआर' नाम के रडार इमेज सैटेलाइट को भी इसी साल लांच करने की योजना है. 

RISAT-2B से मजबूत होगी भारत की खुफिया क्षमता, ISRO बुधवार को करेगा लॉन्च
फाइल फोटो

चेन्नई: रडार इमेजिंग अर्थ ऑब्जर्वेशन सेटेलाइट (आरआईएसएटी-2बी) के साथ प्रक्षेपित होने जा रहे भारत के पोलर सैटेलाइट लांच व्हीकल (पीएसएलवी) की मंगलवार को उल्टी गिनती शुरू हो गई. इसरो के एक अधिकारी ने बताया कि पीएसएलवी बुधवार को प्रक्षेपित होगा. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अधिकारी के अनुसार, पीएसएलवी के प्रक्षेपण की 25 घंटों की उल्टी गिनती मंगलवार को सुबह 4.30 बजे शुरू हो गई. इसरो के सांख्यिकी तंत्र के अनुसार, 'पीएसएलवी-सी46' आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में रॉकेट पोर्ट से पहले लांच पैड से बुधवार सुबह 5.30 बजे प्रक्षेपित होगा.

 

रॉकेट अपने साथ 615 किलोग्राम का 'आरआईएसएटी-2बी' ले जाएगा जो आकाश से भारत की खुफिया क्षमताओं को और मजबूत करेगा. भारत की एक अन्य 'आरआईएसएटी-2बीआर' नाम के रडार इमेज सैटेलाइट को भी इसी साल लांच करने की योजना है. इसरो के अनुसार, 'आरआईएसएटी-2बी' का उपयोग कृषि, वन विज्ञान और आपदा प्रबंधन में किया जाएगा. प्रक्षेपण के लगभग 15 मिनट के बाद रॉकेट 'आरआईएसएटी-2बी' को यहां से लगभग 555 किलोमीटर दूर कक्षा में स्थापित कर देगा.