J&K: आईपीएस अधिकारी के भाई के साथ बना था आतंकी, सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में किया ढेर

पिछले साल जुलाई में अदफर फयाज ने आतंक की दुनिया में रखा था कदम, पुलवामा के त्राल में हुई मुठभेड़ में एक अन्‍य आतंकी के साथ सुरक्षाबलों ने किया है ढेर.

J&K: आईपीएस अधिकारी के भाई के साथ बना था आतंकी, सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में किया ढेर
फाइल फोटो

नई दिल्‍ली: जम्‍मू और कश्‍मीर में सक्रिय आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑल आउट चला रहे सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है. मंगलवार (5 मार्च 2019) की सुबह सुरक्षाबलों ने पुलवामा के त्राल इलाके में दो आतंकियों को मार गिराया है. दोनों आतंकी हिजबुल मुजाहिद्दीन नामक आतंकी संगठन से जुड़े हुए थे. 

स्‍थानीय सूत्रों के अनुसार, मारे गए आतंकियों की पहचान अदफर फयाज और इरफान अहमद के रूप में हुई है. दोनों आतंकियों की पहचान के बाबत सुरक्षाबलों ने आधिकारिक पुष्टि कर दी है. फिलहाल, सुरक्षाबल इलाके में छिपे अन्‍य आतंकियों की तलाश में लगातार सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं. 

सुरक्षाबलों से जुड़े सूत्रों के अनुसार, अफदर फयाज मूल रूप से त्राल के गुलशनपुरा इलाके का रहने वाला है. उसने बीते साल 8 जुलाई को 8 अन्‍य नौजवानों के साथ आतंक की दुनिया में कदम रखा था. फयाज के साथ आतंक की दुनिया में कदम रखने वालों में आईपीएस अधिकारी का भाई शमशुल हक भी शामिल था. 

8 महीनों से सक्रिय था आतंकी अफदर
उन्‍होंने बताया कि कश्‍मीर घाटी में बीते 8 महीनों से आतंक फैला रहे अफदर फयाज को त्राल में हुए मुठभेड़ में मार गिराया है. अफदर फयाज के साथ मारे गए अन्‍य आतंकी की पहचान इरफान अहमद के रूप में हुई है. इरफान मूल रूप से त्राल के शरीफ अदब इलाके का रहने वाला है. 12वीं पास शरीफ ने 12 नवंबर 2017 को हिजबुल मुजाहिद्दीन नामक आतंकी संगठन ज्‍वाइन किया था. 

गोल मस्जिद इलाके में छिपे थे आतंकी
सुरक्षाबलों के अनुसार, सोमवार शाम त्राल के मीर महोल्‍ला में आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया जानकारी मिली थी. सूचना के आधार पर सीआरपीएफ की 180वीं बटालियन, 42 राष्‍ट्रीय राइफल्‍स और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के स्‍पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने रविवार रात इलाके की घेराबंदी कर आतंकियों की तलाशी शुरू की. मंगलवार सुबह सुरक्षाबल त्राल के गोल मस्जिद इलाके में स्थिति उस मकान को तलाशनें में कामयाब रहे, जिसमें आतंकी छिपे हुए थे. 

पूरी रात चला सर्च ऑपरेशन
सीआरपीएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, खुद को सुरक्षाबलों से घिरा पाकर मंगलवार सुबह करीब 7 बजे आतंकियों ने गोलियां बरसाना शुरू कर दी. जिसके बाद सुरक्षाबलों ने कड़ी कार्रवाई करते हुए दोनों आतंकियों को मार गिराया.  जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के अनुसार, "अभियान मंगलवार सुबह तक जारी रहा. आतंकवादियों द्वारा सुरक्षा बलों पर गोली चलाने के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई थी." 

बुधवार को सेना ने किया था दो आतंकियों को ढेर
इससे पहले बुधवार को दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षा बलों ने जैश के दो आतंकियों को मार गिराया था. मारे गए आतंकियों में एक पाकिस्तानी आतंकी था. उनके पास से भारी गोला-बारूद और हथियार बरामद हुए हैं.