जामिया हिंसा: सामने आया दिल्ली के ज्वाइंट सीपी का VIDEO, छात्रों से शांति की अपील करते दिखे

हालात को कंट्रोल करने के लिए सर्दन रेंज के जॉइंट सीपी देवेश श्रीवास्तव प्रदर्शनकारियों से शांति की अपील करते दिखाई दिए.  

जामिया हिंसा: सामने आया दिल्ली के ज्वाइंट सीपी का VIDEO, छात्रों से शांति की अपील करते दिखे

नई दिल्ली: जामिया नगर हिंसा (Jamia Violence) मामले में एक नया वीडियो सामने आया है. ये वीडियो रविवार को हुई जामिया हिंसा के दौरान का है जब भीड़ बसों और वाहनों में आग लगाने के बाद यूनिवर्सिटी में घुस गई और कुछ लोग रोड पर थे. उसी वक्त यूनिवर्सिटी और रोड की तरफ से पुलिस पर पथराव किया जा रहा था. उस वक्त हालात को कंट्रोल करने के लिए सर्दन रेंज के जॉइंट सीपी देवेश श्रीवास्तव 6 नंबर गेट पर प्रदर्शनकारियों से शांति की अपील करते दिखाई दे रहे हैं. 

उन्होंने कहा कि, 'आप अंदर से पथराव न करें. विश्वविद्यालय के अंदर शांति से बैठे रहें बाहर न आएं. पत्थर, बोतल, ट्यूबलाइट नहीं फेंके. जो भी बाहर हैं वो अंदर जाएं. हम आपकी सुरक्षा के लिए पहुंचे हैं. आपके बीच जो गलत लड़के पहुंचे हैं जो पत्थरबाजी कर रहे हैं. पत्थर हम तक आ रहे हैं. हम लागातार आपरके प्रॉक्टर और सुरक्षा स्टाफ से बात कर रहे हैं.' वीडियो में ज्वाइंट सीपी छात्रों से कह रहे हैं कि कोई ऐसा काम न करें जिससे विश्वविद्यालय का नाम खराब हो.

आपको बता दें कि नागरिकता संशोधन विधेयक (CAA) के खिलाफ रविवार (15 दिसंबर) को हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए आरोपियों में से एक भी स्टूडेंट नहीं है. सभी आरोपी क्रिमिनल बैकग्राउंड के लोग है और इनमे से 3 तो ऐसे लोग हैं जो इलाके के बीसी यानि बैड करेक्टर घोषित हैं. 

इस पूरे मामले में पुलिस ने न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और जामिया नगर थाने में जो FIR दर्ज की है उसमें करीब 15 लोगों के नाम शामिल हैं. जरूरत पड़ने पर और लोगों के नाम को जोड़े जा सकते हैं. जानकारी के मुताबिक यह केस क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया है. पुलिस वीडियो की मदद से हिंसा में शामिल लोगों की पहचान कर रही है.

पुलिस ने पहली FIR न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने में आगजनी, दंगा फैलाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान और सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का दर्ज किया है. दूसरी FIR जामिया नगर थाने में दंगा फैलाने, पथराव और सरकारी काम में बाधा करने का दर्ज किया है. जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी को 5 जनवरी तक के लिए बंद कर दिया गया है. 

ये भी देखें