जम्मू कश्मीर: तापमान में लगातार गिरावट जारी, नलों में जम गया पानी

कश्मीर और लद्दाख दोनों क्षेत्रों में मौसम ठंडा और खुश्क बना हुआ है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले पांच दिनों तक बर्फ से ढकी पहाड़ों से चलने वाली ठंडी बर्फीली हवाओं के चलते मौसम में कोई बदलाव नहीं होगा और लोगों को ठण्ड सहना पड़ेगा. जम्मू-कश्मीर और कारगिल जिले के मैदानी इलाकों में 11 से 13 दिसंबर के दौरान बर्फबारी और बारिश होने की संभावना है.

जम्मू कश्मीर: तापमान में लगातार गिरावट जारी, नलों में जम गया पानी
प्रतीकात्मक तस्वीर

श्रीनगर: कारगिल जिले का द्रास इलाका देश का सब से ठंडा स्थान बन गया है, जहां तापमान शून्य से 24.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक श्रीनगर में तपान शून्य से 3 डिग्री नीचे दर्ज हुआ है. अगले पांच दिनों तक कश्मीर और लद्दाख के लोगों को ठण्ड से निजात मिलती नहीं दिख रही है. श्रीनगर सहित पूरे कश्मीर घाटी में इन दिनों सुबह 10 बजे तक कोहरा नहीं छंट पा रहा है. 

कश्मीर और लद्दाख दोनों क्षेत्रों में मौसम ठंडा और खुश्क बना हुआ है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले पांच दिनों तक बर्फ से ढकी पहाड़ों से चलने वाली ठंडी बर्फीली हवाओं के चलते मौसम में कोई बदलाव नहीं होगा और लोगों को ठण्ड सहना पड़ेगा. जम्मू-कश्मीर और कारगिल जिले के मैदानी इलाकों में 11 से 13 दिसंबर के दौरान बर्फबारी और बारिश होने की संभावना है.

फिलहाल लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है. ठण्ड का जोर ऐसा है कि लोग पूरा शरीर ढककर घर से बाहर निकल रहे हैं. सबसे ज्यादा परेशानी बच्चों को हो रही है. बच्चों को स्कूल और ट्यूशन जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. घाटी के कारोबारी संदीप कहते हैं, 'ठण्ड तो बहुत है, बहुत जरूरी होने पर ही लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं.'

ठंड का कहर लद्दाख के द्रास और कारगिल में है, यहां पानी के नल ही नहीं बल्कि झील और झरने भी जम गए हैं. सुबह जेसे ही घरों के बाहर लोग निकलते हैं तो हर तरफ सफेद कोहरे की चादर बिछी दिख रही है. इन इलाकों में तापमान शून्य से 25 डिग्री नीचे जा चुका है.

द्रास के रहने वाले अफजल कहते हैं, 'इस साल ठण्ड वक्त से पहले आ गई है. सर्दी ऐसी है कि नल तक जम गए हैं लोगों को बहुत मुश्किल हो रही है.' इस साल लग रहा है कि सर्दी का मौसम बहुत सख्त गुजरने वाला है.

गुलाम मोहम्मद कहते हैं, 'यहां पर ठण्ड बहुत ज्यादा था, तापमान माइनस से 20 डिग्री नीचे तक चला गया है. ठण्ड इतनी है कि गाड़ी तक नहीं स्टार्ट हो पा रही है.'

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक इस ठण्ड से निजात तब मिलेगी जब बारिश या बर्फ पड़ेगी. वहीं मौसम विभाग ने भी संकेत दिए हैं कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की ऊंची पहाड़ियों जैसे पपीरपंचल, जोजिला, बनिहाल टॉप, मुगल रोड पर भारी बर्फबारी की संभावना है. ऐसी सम्भावना है कि जो जिला- लेह, बनिहाल-रामबन और मुगल सड़क पर यातायात प्रभावित हो सकता है.

तापमान की बात करें तो श्रीनगर में माइनस से 3.0 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है. उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग में तापमान शून्य से 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 5.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में तापमान शून्य से 4.9 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया.

ये भी देखें-: