close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्‍मू-कश्‍मीर: सेब के बाग में छिपे थे आतंकी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में एक हुआ ढेर

इलाके में कानून व्‍यस्‍था को कामय रखने के लिए प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट सेवा को अस्‍थाई तौर पर निलंबित कर दिया है. वहीं, पत्‍थरबाजी जैसी घटनाओं से निपटने के लिए सीआरपीएफ की अतिरिक्‍त कं‍पनियों को तैनात कियाा गया है. 

जम्‍मू-कश्‍मीर: सेब के बाग में छिपे थे आतंकी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में एक हुआ ढेर
मारे गए आतंकी का शव अभी तक बरामद नहीं किया जा सका है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: जम्‍मू और कश्‍मीर के शोपियां इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया है. मुठभेड़ में मारा गया आतंकी शोपियां के नरबानी इलाके में स्थिति एक सेब के बाग में छिपा हुआ था. मौके पर दो से तीन आतंकियों के छिपे होने की आशंका जाहिर की जा रही है. जिनके साथ, सुरक्षाबलों की मुठभेड़ जारी है. मारे गए आतंकी का शव अभी तक बरामद नहीं किया जा सका है. सुरक्षाबलों के अनुसार, मुठभेड़ के बाद सर्च ऑपरेशन कर मारे गए आतंकियों का शव बरामद किया जाएगा. 

सुरक्षाबलों से जुड़े सूत्रों के अनुसार, घाटी में दहशतगर्दों के खिलाफ जारी ऑपरेशन ऑल आउट से बचने के लिए कुछ आतंकियों ने शोपियां इलाके स्थिति एक सेब के बाग में पनाह ले रखी थी. शुक्रवार सुबह इन आतंकियों की भनक मिलने के बाद राष्‍ट्रीय राइफल्‍स, सीआरपीएफ और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस का स्‍पेशल ऑपरेशन स्‍क्‍वायड मौके के लिए रवाना हो गया. सेब के बाग की घेरे बंदी करने के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों की खोज में सर्च ऑपरेशन जारी किया. 

ऑपरेशन से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि खुद को सुरक्षाबलों से घिरा पाकर आतंकियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. बावजूद इसके, सुरक्षाबलों ने आतंकियों से सरेंडर करने की अपील की. आतंकियों ने सुरक्षाबलों की इस अपील को खारिज करते हुए गोलीबारी तेज कर दी. जिसके बाद, सुरक्षाबलों ने अपनी जवाबी कार्रवाई शुरू की. इस कार्रवाई में कुछ ही समय बाद एक आतंकी को मार गिराया गया. मौके पर अभी दो से तीन अन्‍य आतंकियों के मौजूद होने की खबर है. 

सुरक्षाबलों के अनुसार, मौके पर मौजूद आतंकियों के साथ मुठभेड़ अभी जारी है. तेज गोलीबारी के चलते अभी तक मारे गए आतंकी का शव बरामद नहीं किया जा सका है. वहीं, इलाके में कानून व्‍यस्‍था को कामय रखने के लिए प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट सेवा को अस्‍थाई तौर पर निलंबित कर दिया है. वहीं, पत्‍थरबाजी जैसी घटनाओं से निपटने के लिए सीआरपीएफ की अतिरिक्‍त कं‍पनियों को तैनात कियाा गया है.