जम्मू कश्मीर: अर्धसैनिक बलों की 72 कंपनियां हटाने का आदेश, अनुच्छेद 370 हटाने के दौरान हुई थी तैनाती

अनुच्छेद 370 हटाने के दौरान जम्मू कश्मीर में अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती हुई थी. 

जम्मू कश्मीर: अर्धसैनिक बलों की 72 कंपनियां हटाने का आदेश, अनुच्छेद 370 हटाने के दौरान हुई थी तैनाती
सीआरपीएफ की 24 और बीएसएफ की 12 कंपनियां हटाने का आदेश

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों की तैनाती को लेकर बड़ा फैसला लिया है. जम्मू कश्मीर से अर्धसैनिक बलों की 72 कंपनियां तत्काल हटाने का आदेश दिया गया है. इसमें सीआरपीएफ की 24 और बीएसएफ की 12 कंपनियां हटाने का आदेश दिया गया है. इसके अलावा आईटीबीपी, सीआईएसएफ, एसएसबी की 12-12 टुकड़ियां हटाने का आदेश दिया गया है. बता दें कि अनुच्छेद 370 हटाने के दौरान जम्मू कश्मीर में अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती हुई थी. 

बता दें कि इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बताया था कि जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा (Line of Control) से लगातार होने वाली घुसपैठ पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित और समर्थित है. गृह मंत्रालय ने लोकसभा में दाखिल किए गए लिखित जवाब में यह बात कही थी. गृह मंत्रालय के मुताबिक अगस्त 2019 से अब तक यानी जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से लेकर आज तक सीमा पार से घुसपैठ की करीब 84 बार कोशिशें हुई थीं और अनुमान था कि 59 ऐसे आतंकी घाटी में घुसपैठ कर सकते हैं.

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने संसद को बताया था कि साल 1990 से 1 दिसंबर 2019 तक आतंकी हिंसा में भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा अब तक 22, 557 आतंकियों को ढेर किया गया है. वहीं सीमापार से हुई घुसपैठ की कोशिशों में साल 2005 से 31 अक्टूबर 2019 तक 1011 आतंकियों को मार गिराया गया है, 42 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है और सुरक्षाबलों की चौकसी के चलते लगभग 2253 आतंकियों को वापस खदेड़ा गया.