Jammu Kashmir: मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादी को लेकर खुलासा, पिछले सप्ताह ही लौटा था पाकिस्तान से

हर बार मुंह की खाने बाद भी पाकिस्तान (Pakistan) हरकतों से बाज नहीं आ रहा है. जम्मू कश्मीर एनकाउंटर में मारे गए एक आतंकियों में से एक आतंकी हाल ही में पाकिस्तान से हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेकर आया था.

Jammu Kashmir: मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादी को लेकर खुलासा, पिछले सप्ताह ही लौटा था पाकिस्तान से
फाइल फोटो.

श्रीनगर: एक बार फिर पाकिस्तान की नापाक हरकता का खुलासा हुआ है. मुठभेड़ में मारे गये दो आतंकवादियों का पाकिस्तान बारे में खुलासा करते हुए, जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) ने कहा कि एक आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन (Hizbul Mujahideen) का सदस्य था. वह हथियार चलने की ट्रेनिंग लेकर पिछले ही सप्ताह पाकिस्तान (Pakisntan) से लौटा था.

2018 से सक्रिय था इनातुल्लाह शेख 

आईजी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में शोपियां के वनगाम में शनिवार शाम को हुई मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन (Hizbul Mujahideen) और लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के दो आतंकवादी मारे गए. उन्होंने यहां कहा, ‘इस अभियान में दो आतंकवादी मारे गये. उनमें एक शोपियां निवासी इनातुल्लाह शेख 2018 से सक्रिय था और वह हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेने के लिए पाकिस्तान गया था. पिछले सप्ताह ही वह लौटा था. वह हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य था.’
 
पाकिस्तान से आई M-4 राइफल 

आईजी ने बताया कि अन्य आतंकवादी आदिल मलिक अनंतनाग का रहने वाला था और उसका संबंध लश्कर-ए-तैयबा से था. उन्होंने कहा, ‘मुठभेड़ स्थल से एक AK-47 राइफल, FM-4 राइफल और एक पिस्तौल बरामद की गई है.’ उन्होंने कहा, इस साल अब तक सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों के पास से दो M-4 राइफल बरामद की हैं. आईजी ने कहा कि इस बात की संभावना है कि शेख पाकिस्तान से M-4 राइफल लेकर आया हो.

यह भी पढ़ें: Maharashtra: सामना में Anil Deshmukh पर सवाल, BJP बोली- शिवसेना की नौटंकी है

घायल सिपाही की हालत स्थिर

इस मुठभेड़ में सेना के ट्रूपर हवलदार पिंकू कुमार शहीद हो गये, जबकि एक अन्य सिपाही घायल हो गया. घायल सिपाही को सेना के 92 बेस अस्पताल ले जाया गया है और उसकी हालत स्थिर बताई गई है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.