close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर: रवाना हुआ बाबा बुड्ढा अमरनाथ का पहला जत्था, जानें क्या है मान्यता

जम्मू के यात्री निवास भगवती नगर से करीब एक हजाय श्रद्धालुओं से भरी 22 गाड़ियों को रवाना किया गया.

जम्मू-कश्मीर: रवाना हुआ बाबा बुड्ढा अमरनाथ का पहला जत्था, जानें क्या है मान्यता
यात्रा आरंभ होने से पहले श्रद्धालुओं ने मंत्रोच्चार और पूजा-पाठ किया.

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में स्थित बाबा बुड्ढा अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था शुक्रवार को रवाना हुआ. जम्मू के यात्री निवास भगवती नगर से करीब एक हजाय श्रद्धालुओं से भरी 22 गाड़ियों को रवाना किया गया. जानकारी के मुताबिक, इस जत्थे में तमिलनाडु, सौराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और बिहार से आए श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए भेजा गया है. इस पवित्र यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में काफी जोश देखने को मिला. यात्रा आरंभ होने से पहले श्रद्धालुओं ने मंत्रोच्चार और पूजा-पाठ किया. वहीं, प्रशासन और पुलिस की तरफ से भी इस यात्रा को सफल बनाने के लिए चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं.

आपको बता दें कि यह यात्रा रक्षाबंधन यानी कि 26 अगस्त तक चलेगी. जिसमें शामिल होने के लिए देशभर से श्रद्धालुओं के जम्मू पहुंचने का सिलसिला जारी है. यात्रा शुरू होने से पहले गुरुवार शाम को यहां पारंपरिक भूमि पूजन किया गया. जानकारी के मुताबिक, पूजा में राज्यपाल के सलाहाकार बीबी व्यास, डिवीजनल कमिश्नर जम्मू संजीव वर्मा के अलावा राम मंदिर पुरानी मंडी के महंत रामेश्वर दास, बाबा अमरनाथ एवं बुड्ढा अमरनाथ यात्रा के अध्यक्ष सुंदर मोहन अग्रवाल और कई अन्य लोग शामिल हुए. 

यात्रा का महत्व
मान्यता है कि भगवान शिव ने कश्मीर में स्थित अमरनाथ की गुफा में माता पार्वती को जो अमर कथा सुनाई थी, उसकी शुरुआत बुड्ढा अमरनाथ के स्थान से ही हुई थी. यह मान्यता है कि बाबा बुड्ढा अमरनाथ के दर्शन के बिना अमरनाथ की कथा ही नहीं बल्कि यात्रा भी अधूरी है. बुड्ढा अमरनाथ जम्मू से 246 किमी दूर पुंछ जिले के राजपुरा मंडी क्षेत्र में है.