J&K: हिरासत में रखे गए नेताओं के परिजन बोले- 'हमारे अपनों को सुविधाएं नहीं दी जा रहीं'

एक अन्य रिश्तेदार महराज ने कहा कि यहां मुलाक़ात करने के लिए अंदर जाने वक़्त ऐसा महसूस होता है कि जैसे किसी क्रिमिनल को मिलने जाना है. तलाशी के नाम पर उत्पीड़न होता है. 

J&K: हिरासत में रखे गए नेताओं के परिजन बोले- 'हमारे अपनों को सुविधाएं नहीं दी जा रहीं'

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के सीनियर नेता नईम अख्तर से मुलाक़ात करने पहुंचीं उनकी बेटी ने कहा कि जिस बिल्डिंग में इन नेताओं को रखा गया था वह सही नहीं है. वहां न तो सही से बिजली है, ना ही साफ-सफाई है. टॉयलेट भी काफी गंदा है. उन्होंने यह भी कहा कि आज पहली बार सिक्योरिटी के नाम पर अंदर मिलने जाने वाली महिलाओं के कपड़े उतरवाकर तलाशी ली गई. हुमें मुलाक़ात के नाम पर अपमानित किया गया.

एक अन्य रिश्तेदार महराज ने कहा कि यहां मुलाक़ात करने के लिए अंदर जाने वक़्त ऐसा महसूस होता है कि जैसे किसी क्रिमिनल को मिलने जाना है. तलाशी के नाम पर उत्पीड़न होता है. उन्होंने कहा कि बुनियादी सुविधाएं नहीं है. एक और नेता के बेटे साकिब ने कहा कि हुमें बिना किसी वजह परेशान किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हम उनके लिए बुनियादी सुविधा की चीज़ें लेकर आए हैं, हुमें गाड़ी अंदर ले जाने की अनुमति नहीं है. उन्होंने कहा कि जैसे अन्य नेताओं को घरों में नज़रबंद रखा गया है वैसे इन्हें भी घर पर नज़रबंद रखा जा सकता था.

गौरतलब है कि रविवार को जम्मू कश्मीर के करीब 33 नेताओं को सर्दियां शुरू होने पर श्रीनगर के एसकेआईसीसी से एमएलए हॉस्टल शिफ्ट किया गया. इससे पूर्व गत शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती को भी चश्मा शाही सब जेल से एमए रोड स्थित एक सरकार आवास में शिफ्ट किया गया था. इन नेताओं को अनुचेद 370 हटाए जाने के बाद घाटी में हालातों को बिगाड़ने की सम्भावनाओं के चलते हिरासत में रखा गया है.

ये भी देखें-: