कमला मिल्स हादसा : पब का तीसरा मालिक भी गिरफ्तार, 1 लाख रुपये का था इनाम

मुंबई में 29 दिसंबर को कमला मिल्स में हुए अग्निकांड के सिलसिले में पब के मालिकों कृपेश सांघवी, जिगर सांघवी और अभिजीत मंकार को गिरफ्तार कर लिया गया. 

कमला मिल्स हादसा : पब का तीसरा मालिक भी गिरफ्तार, 1 लाख रुपये का था इनाम
कमला मिल्स अग्निकांड में फरार 1Above रेस्टोरेंट के 2 मालिकों जिगर सांघवी और कृपेश सांघवी को देर रात गिरफ्तार कर लिया गया.

मुंबई: मुंबई में 29 दिसंबर को कमला मिल्स में हुए अग्निकांड के सिलसिले में पब के मालिकों कृपेश सांघवी, जिगर सांघवी और अभिजीत मंकार को गिरफ्तार कर लिया गया. अतिरिक्त पुलिस आयुक्त एस जयकुमार ने बताया कि इस घटना के बाद से फरार चल रहे सांघवी बंधुओं को यहां अंधेरी इलाके में गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने वन एवब पब के मालिकों सांघवी बंधुओं ओर अभिजीत मंकार को कथित रुप से शरण देने को लेकर एक होटल मालिक विशाल करिया को गिरफ्तार किया था. 

इन तीनों पर गैर इरादतन हत्या और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.पुलिस ने उनके ठिकानों के बारे में सुराग देने पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था. कमला हाउस स्थित वन एबव और उससे सटे मोजो बिस्त्रो रेस्तरां पब में 29 दिसंबर को भयंकर आग लगने से 14 लोगों की जान चली गयी थी. 

यह भी पढ़ें- मुंबई : कमला मिल्स कंपाउंड के रेस्टोरेंट में भीषण आग, 14 की मौत

1-Above पब मालिक के दो रिश्तेदार गिरफ्तार
इससे पहले रविवार 31 दिसंबर को पुलिस ने ‘1 एबव’ पब के मालिकों को कथित तौर पर पनाह देने को लेकर दो लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने पब मालिकों- हितेश सांघवी और जिगर सांघवी, सह मालिक अभिजीत मनका और अन्य के खिलाफ गैर इरादतन हत्या सहित विभिन्न आरोपों को लेकर मामला दर्ज किया था. सांघवी बंधुओं के खिलाफ शनिवार (30 दिसंबर) को लुकआउट नोटिस जारी किया गया था. बायकुला के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अविनाश शिंगठे ने बताया कि राकेश सांघवी और चचेरे भाई आदित्य सांघवी को आज (31 दिसंबर) गिरफ्तार किया गया. उन्होंने बताया कि उनके अन्य रिश्तेदार, महेंद्र सांघवी की तलाश की जा रही. हालांकि उन्होंने और ब्योरा नहीं दिया.

यह भी पढ़ें- कमला मिल हादसा: होटल मालिकों के खिलाफ लुकआउट नोटिस, 314 स्थानों पर अवैध ढांचे ध्वस्त, 7 होटल सील

एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये तीनों रिश्तेदार बायकुला के मझगांव इलाके के रहने वाले हैं. पुलिस ने बताया कि पब मालिकों की अब तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. उनका पता लगाने की कोशिशें जारी हैं. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आग लगने की घटना की जांच कर रही एनएम जोशी मार्ग पुलिस ने करीब 27 प्रत्यक्षदर्शियों के बयान दर्ज किए हैं. उन्होंने कहा, ‘हम घटना के सिलसिले में और भी प्रत्यक्षदर्शियों की तलाश कर रहे हैं.

kamla mil
 पब के 2 मालिकों जिगर सांघवी और कृपेश सांघवी को देर रात गिरफ्तार कर लिया गया. 

संसद में भी उठा कमला मिल हादसा
यह हादसा गुरुवार देर रात करीब 12.30 बजे कमला मिल कंपाउंड स्थित मोजो बिस्ट्रो में हुआ, जि‍समें अचानक आग लग गई. देखते ही देखते यह आग पूरे परिसर में फैल गई. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची दमकल की 8 गाड़ियों, 6 वाटर टैंक और अन्य उपकरणों की मदद से कई घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका. इस हादसे में मारे गए लोगों में ज्यादातर महिलाएं हैं. आग इतनी भीषण थी कि इससे टेरेस बार पूरी तरह से ख़ाक हो चुका है. राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई राजनेताओं और फिल्मी दुनिया के लोगों ने इस घटना पर दुख प्रकट किया था. संसद में भी यह मुद्दा उठा था. इस पर भाजपा और शिवसेना ने एकदूसरे पर गंभीर आरोप भी लगाए. 

घटना के बाद जागी बीएमसी
इससे पहले बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शनिवार (30 दिसंबर) को 314 स्थानों पर अवैध ढांचों को गिरा दिया और सात होटल सील कर दिये. एक पब में आग लगने से 14 लोगों की मौत होने के एक दिन बाद यह कार्रवाई की गई. बीएमसी ने एक विज्ञप्ति में कहा कि उसने शहर में और उपनगरों में 624 रेस्तरां, ढाबों और मॉल का निरीक्षण किया और 314 स्थानों पर खड़े अवैध एवं अनधिकृत ढांचों को ध्वस्त कर दिया. इसने कहा, बीएमसी ने कार्रवाई के दौरान सात होटल सील कर दिये और 417 एलपीजी सिलेंडर जब्त किए.

यह भी पढ़ें- कमला मिल्स हादसा : 1-Above पब के दो मैनेजर गिरफ्तार, पुलिस हिरासत में भेजे गए

पब के दो मैनेजर गिरफ्तार
मुंबई के कमला मिल्स कंपाउंड के एक रेस्‍टोरेंट में लगी आग के मामले में सोमवार को मुंबई पुलिस ने 1-Above पब के दो मैनेजर्स को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद दोनों को मुंबई की एक स्‍थानीय अदालत ने नौ जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया.गिरफ्तार किए गए इन दोनों मैनेजरों का नाम केविन बाबा और लूपस बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि 28 दिसंबर की रात जब मोजोज़ रेस्टोरेंट और 1-Above पब में आग लगी उस वक्त ये दोनों वहां मौजूद थे. आपको बता दें कि इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गयी थी और कई लोग घायल हुए थे. मुंबई पुलिस ने इस मामले में इन दोनों रेस्टोरेंट्स के मालिकों के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज किया है.