VIDEO: छापेमारी के दौरान मिले नोटों के 3 बिस्तर, 96 करोड़ के पुराने नोट देखकर उड़े सबके होश

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और उत्तर प्रदेश पुलिस की संयुक्त छापेमारी में कानपुर में 80 करोड़ रुपये मूल्य के बंद हो चुके नोटों का पता चला.

VIDEO: छापेमारी के दौरान मिले नोटों के 3 बिस्तर, 96 करोड़ के पुराने नोट देखकर उड़े सबके होश
अनुमान के मुताबिक जब्त की गयी धनराशि करीब 96 करोड़ रुपये तक की हो सकती है.(फोटो-ANI)

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद उत्तर प्रदेश के औद्योगिक शहर कानपुर में पुराने नोटों की सबसे बड़ी बरामदगी हुई है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी और यूपी पुलिस ने एक संयुक्त छापेमारी में  96 करोड़ 62 लाख के पुराने नोट बरामद किये हैं. NIA और यूपी पुलिस ने छापेमारी के दौरान नोटों के तीन बिस्तर बरामद किये हैं. बताया जा रहा है कि इनका इस्तेमाल सोने के लिए किया जाता था. पुलिस ने ये छापेमारी बिल्डर आनंद खत्री के घर में की. मंगलवार (16 जनवरी) को NIA और यूपी पुलिस ने एक होटल और तीन अन्य ठिकानों पर छापा मारा था. इस मामले में आठ लोग पकड़े गये हैं. पकड़े गए लोगों के आधार पर स्वरुपनगर स्थित आनंद खत्री के घर छापेमारी की गई. 

कानपुर के एसएसपी एके मीणा ने बताया कि सूचना मिलने के बाद इनके घर छापा मारा गया था. उन्होंने कहा कि इस बारे में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और आयकर विभाग के अधिकारियों को सूचित कर दिया गया है. पुलिस के अनुसार इस व्यापारी ने दूसरे व्यापारी से नोट बदलने के लिए नगदी जमा कर रखी थी. बता दें कि पिछले दिनों यूपी पुलिस ने मेरठ के एक बिल्डर संजीव मित्तल के लगभग 25 करोड़ रुपये के पुराने नोट जब्त किये थे.

वीडियो देखें...

इसके बाद यह माना जाने लगा कि यूपी में अभी भी नेाट बदलने का काम गलत ढ़ग से चल रहा है. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किया गया एक शख्स का रिश्तेदार रिजर्व बैंक में नौकरी करता है. इससे पुलिस को यह भी शक हो रहा है कि RBI अधिकारी तो नोट बदलवाने के काम में शामिल तो नहीं है. आरबीआई की तरफ से नोट बदलने का समय दिया गया था. लेकिन नियमों के अनुसार अब पुराने नोटों को नहीं बदला जा सकता है. 

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और उत्तर प्रदेश पुलिस की संयुक्त छापेमारी में कानपुर में करोड़ों रुपये मूल्य के बंद हो चुके नोटों का पता चला. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कानपुर पुलिस को एक बंद घर में बड़ी मात्रा में पुराने नोटों के होने के बारे में पता चला. इन नोटों को बदलवाने की बात करने वालों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.पुलिस अधिकारी ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक के अधिकारियों और आयकर विभाग का दल शीघ्र ही जब्त की गयी राशि की सटीक जानकारी देंगे.  

कानपुर के एसएसपी ए.के. मीना ने बताया कि बंद कमरे में पुराने नोटों के बारे में पता चला. जिसके बाद पुलिस ने बंद कमरे में छापेमारी की. नोटों के बारे में आरबीआई और आई. टी विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अभी अंतिम राशि का पता नहीं चल पाया है. मामले की जांच की जा रही है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि हम इस मामले में सरकारी अधिकारयों के शामिल होने की दिशा में भी जांच कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें- हैदराबाद: 3.48 करोड़ रुपये के पुराने नोट बदलवाने की कोशिश में 9 गिरफ्तार

एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह छापेमारी कानपुर के सीसामऊ इलाके में की गयी और स्वरूप नगर पाकेट के एक होटल से कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया. पुलिस महानिरीक्षक (कानपुर क्षेत्र) आलोक सिंह इस मामले की निगरानी कर रहे हैं. 

इनपुट भाषा से भी