close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस के लिए इस राज्य से आई खुशखबरी

लोकसभा चुनाव में भारी हार का सामना करने वाली कांग्रेस के लिए एक राज्य से खुशखबरी आई है. 

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस के लिए इस राज्य से आई खुशखबरी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो, साभार - रॉयटर्स)

बेंगलुरु: लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करने के बाद कांग्रेस के कर्नाटक से खुशी की खबर आई है. राज्य के 7 सिटी म्यूनिसिपल काउंसिल के चुनाव में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. 

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार 56 शहरी स्थानीय निकायों में कुल 1,221 वार्डों में से कांग्रेस ने 509 वार्डों में जीत हासिल की जबकि बीजेपी को 366 स्थानों पर जीत मिली.

अकेले चुनाव लड़ने वाली जेडीएस को 174 वार्डों में जीत मिली. 160 वार्डों में निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुए जबकि बीएसपी को तीन, माकपा को दो और अन्य दलों को सात सीटें मिलीं. सात नगर परिषदों के 217 वार्डों, 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों और 19 नगर पंचायतों के 290 वार्डों के परिणाम घोषित किए गए.

कांग्रेस ने नगर परिषदों में 90 वार्ड जीते, जबकि भाजपा और जेडीएस ने क्रमशः 56 और 38 वार्ड जीते. कांग्रेस ने 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों में से 322 में जीत हासिल की. भाजपा ने 184 और जद-एस ने 102 सीटें जीतीं.

बता दें देशभर की तरह कर्नाटक में भी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की बड़ी हार हुई. कांग्रेस सिर्फ एक ही सीट पर जीत दर्ज कर सकी. कांग्रेस को मिली करारी हार के बाद पार्टी में हड़कंप मच गया है.  25 मई को कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की थी. हालांकि सीडब्ल्यूसी ने उनकी पेशकश को खारिज करते हुए उन्हें संगठन में सभी स्तर पर आमूलचूल बदलाव के लिए अधिकृत किया.

(इनपुट - भाषा)