close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तिहाड़ में बंद चिदंबरम के जन्मदिन पर बेटे ने लिखा पत्र- आज आप 74 साल के होने जा रहे हैं

आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले ( INX Media case) पी चिदंबरम तिहाड़ जेल में बंद है. 

तिहाड़ में बंद चिदंबरम के जन्मदिन पर बेटे ने लिखा पत्र- आज आप 74 साल के होने जा रहे हैं
पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P. Chidambaram) के 74वें जन्मदिन पर उनके बेटे कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) ने अपने पिता के नाम एक पत्र लिखा है. गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले ( INX Media case) पी चिदंबरम तिहाड़ जेल में बंद है. 

कार्ति चिदंबरम ने लिखा है, 'आज आप 74 साल के हो गए लेकिन कोई '56 इंच' आपको रोक नहीं सकता.' आप कभी भी अपने जन्मदिन को बड़े स्तर पर नहीं मनाते  हालांकि आजकल छोटी से छोटी बात पर बड़े जश्न मानने का चलन है. आपका जन्मदिन पहले जैसा नहीं है, हम आपको मिस कर रहे हैं. आपकी अनुपस्थिति हमारे दिलों पर छाई है, और हम चाहते हैं कि आप हमारे साथ केक काटने के लिए घर वापस आए

कार्ति ने अपने लंबे पत्र में मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने पीयूष गोयल के हाल ही में दिए आइंस्टाइन वाली टिप्पणी पर चुटकी ली है तो जीडीपी ग्रोथ को लेकर भी मोदी सरकार की आलोचना की है. कार्ति के पत्र में कश्मीर मुद्दे का भी जिक्र है. 

तिहाड़ में मनेगा चिदंबरम का जन्मदिन
पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम (P. Chidambaram) को अब तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में ही अपना 74वां जन्म दिन मनाना पड़ेगा. चिदंबरम, हर कानूनी प्रक्रिया को अपनाने के बावजूद राहत पाने में विफल रहे हैं. 

पूर्व केंद्रीय मंत्री का जन्म तमिलनाडु के शिवगंगा जिले में कनादुकाथन में 1945 को हुआ था. चिदंबरम 19 सितंबर तक आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले ( INX Media case) में न्यायिक हिरासत में है. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है. उनकी जमानत याचिका दिल्ली हाईकोर्ट में लंबित है, जिस पर 23 सितंबर को सुनवाई होगी.

आईएनएक्स मीडिया मामले में पांच सितंबर को एक अदालत ने पूर्व मंत्री को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया. उन्हें 21 अगस्त को नाटकीय घटनाक्रम के बाद गिरफ्तार किया गया.

दिल्ली की एक अदालत ने आईएनएक्स धनशोधन मामले में उनकी आत्मसमर्पण अर्जी अमान्य कर दी. अदालत ने कहा कि अगर जांचकर्ता उन्हें गिरफ्तार नहीं करना चाहते तो आत्मसमर्पण पर विचार नहीं किया जा सकता. आईएनएक्स धनशोधन की जांच प्रवर्तन निदेशालय द्वारा की जा रही है.

सीबीआई ने 15 मई 2017 को प्राथमिकी दर्ज की थी, जिसमें कथित तौर पर विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) में अनियमितता के जरिए आईएनएक्स मीडिया समूह को 305 करोड़ रुपये का विदेशी फंड 2007 में स्वीकार करने को मंजूरी दी गई थी. इस दौरान चिदंबरम वित्त मंत्री थे.