close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीरी अलगाववादी नेता शब्बीर शाह 14 दिन की न्यायिक हिरासत में, टेरर फंडिंग के लिए मनीलॉन्ड्रिंग का आरोप

शब्बीर को 2005 अगस्त के उस मामले में हिरासत में लिया गया जिसमें दिल्ली पुलिस की विशेष सेल ने कथित हवाला डीलर मोहम्मद असलम वानी (35) को गिरफ्तार किया था.

कश्मीरी अलगाववादी नेता शब्बीर शाह 14 दिन की न्यायिक हिरासत में, टेरर फंडिंग के लिए मनीलॉन्ड्रिंग का आरोप
शब्बीर शाह को प्रवर्तन निदेशालय ने 25 जुलाई को गिरफ्तार किया था. (ट्विटर फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने कथितरूप से आतंकवाद के लिए धन मुहैया कराने के एक दशक पुराने धन शोधन मामले में गिरफ्तार कश्मीरी अलगाववादी नेता शब्बीर शाह को बुधवार (9 अगस्त) को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत अवधि खत्म होने और उसके वकील एन के मट्टा द्वारा अदालत में यह कहे जाने पर कि शब्बीर को आगे हिरासत में ले कर पूछताछ करने की जरूरत नहीं है अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सिद्धार्थ शर्मा ने उन्हें जेल भेज दिया.

आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के बाद उसके वकील एम एस खान ने एक जमानत याचिका दायर की और दावा किया कि शाह पर लगाये गये आरोप ‘‘झूठ’’ पर आधारित और ‘‘जानबूझ कर’’ लगाये गये हैं तथा उन्हें इस मामले में गलत फंसाया गया है. अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय से इस याचिका पर 14 अगस्त तक जवाब मांगा है. याचिका में शाह को निर्दोष बताते हुये कहा गया कि समाज में उनकी गहरी जड़े हैं और वह श्रीनगर के स्थायी निवासी हैं इसलिये ऐसे में इस बात की कोई संभावना नहीं है कि वह फरार हो जायें या अभियोजन के साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ करें.

शाह को प्रवर्तन निदेशालय ने 25 जुलाई को गिरफ्तार किया था. इसके एक दिन पहले ही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने घाटी में अशांति को बढ़ावा देने के लिये कथित तौर पर आतंकवादियों को धन मुहैया कराने के आरोप में कुछ हुर्रियत नेताओं को हिरासत में लिया था.

शब्बीर को 2005 अगस्त के उस मामले में हिरासत में लिया गया जिसमें दिल्ली पुलिस की विशेष सेल ने कथित हवाला डीलर मोहम्मद असलम वानी (35) को गिरफ्तार किया था. वानी वर्तमान में ईडी की हिरासत में है. ईडी का दावा है कि वानी ने पास से 63 लाख रुपए बरामद किए गए थे जिनमें से 52 लाख कथित तौर पर शब्बीर को दिए जाने थे. इससे पहले ईडी ने शब्बीर को समन जारी किए थे.अभियोजन के अनुसार वानी ने दावा किया था कि उसने कश्मीरी पृथकतावादी नेता को 2.25 करोड रुपए दिए थे.