तीसरे मोर्चे का संकल्प लेकर निकले केसीआर ने पीएम मोदी से की मुलाकात

राज्य सरकार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने केसीआर के अनुरोध पर सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की. 

तीसरे मोर्चे का संकल्प लेकर निकले केसीआर ने पीएम मोदी से की मुलाकात
केसीआर का बसपा प्रमुख मायावती से भी मुलाकात का कार्यक्रम है.(फोटो-@narendramodi)

नई दिल्ली: तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख एवं तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बुधवार को यहां मुलाकात की. साथ ही कालेश्वरम सिंचाई परियोजना को राष्ट्रीय स्तर का दर्जा देने सहित अनेक लंबित परियोजनाओं पर चर्चा की. तेलंगाना विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने और राज्य की कमान दोबारा संभालने के बाद राव की मोदी से यह पहली मुलाकात है. इससे पहले राव ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से रविवार को और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से सोमवार को मुलाकात की.

नेताओं के बीच इस मुलाकात को 2019 में होने जा रहे लोकसभा चुनाव के पहले गैर-कांग्रेसी तथा गैर-भाजपा मोर्चा बनाने की कवायद माना जा रहा है. एक सरकारी बयान में कहा गया कि एक घंटे की बैठक के दौरान, ‘‘ मुख्यमंत्री ने राज्य में लंबित परियोजनाओं से संबंधित अनेक मुद्दों पर चर्चा की.’’

चुनाव से पहले तीसरे मोर्च की कवायद तेज, ममता से मिलकर केसीआर ने कहा, मैं अपना मिशन जारी रखूंगा

राज्य सरकार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने केसीआर के अनुरोध पर सकारात्मक प्रतिक्रिया व्यक्त की. राव ने मोदी से मुलाकात के दौरान तेलंगाना के लिए अलग उच्च न्यायालय की स्थापना करने, नए जिले में केन्द्रीय विद्यालयों का निर्माण करने और करीमनगर जिले में एक आईआईआईटी बनाने जैसे अनेक मुद्दों पर चर्चा की.

राव यहां सोमवार रात से मौजूद हैं. उनका बसपा प्रमुख मायावती से भी मुलाकात का कार्यक्रम है. वहीं सपा नेता अखिलेश यादव ने कहा है कि वह राव से मुलाकात करने के लिए हैदराबाद जाएंगे.

इनपुट भाषा से भी