3 साल बाद केजरीवाल को याद आया फ्री वाई-फाई का वादा, दिया यह आश्वासन

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों को ‘‘जल्द’’ ही निशुल्क वाईफाई इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराना शुरू करेगी. 

3 साल बाद केजरीवाल को याद आया फ्री वाई-फाई का वादा, दिया यह आश्वासन
केजरीवाल ने कहा, ‘‘हम जल्द ही निशुल्क वाईफाई लागू करने की तारीख की सूचना देंगे.(फाइल फोटो)
Play

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों को ‘‘जल्द’’ ही निशुल्क वाईफाई इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराना शुरू करेगी. निशुल्क वाईफाई मुहैया कराना आम आदमी पार्टी का प्रमुख चुनावी वादा था. आप ने दिल्लीवासियों को वादा किया था कि अगर उनकी पार्टी की सरकार सत्ता में आती है तो वह दिल्ली में निशुल्क वाईफाई इंटरनेट सेवा उपलब्ध कराएगी. इस वादे से पार्टी को फरवरी 2015 में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर युवाओं का काफी समर्थन मिला था. आप सरकार दिल्ली में अपनी सरकार की तीसरी वर्षगांठ मना रही है.

केजरीवाल ने कहा, ‘‘हम जल्द ही निशुल्क वाईफाई लागू करने की तारीख की सूचना देंगे. लेकिन दिल्ली सरकार इस साल मुफ्त वाईफाई लागू करने जा रही है और इसके लिए, बजट में अलग से कोष का प्रावधान रखा जाएगा. ’’ विपक्षी दलों ने अभी तक चुनावी वादा पूरा ना करने को लेकर कई मौकों पर आप सरकार पर निशाना साधा है. आप सरकार ने वर्ष 2016 में घोषणा की थी कि दिसंबर 2016 तक पूर्वी दिल्ली के 500 से अधिक स्थानों पर हाई स्पीड वाईफाई लगाए जाएंगे. 

यह भी पढ़ें- जनवरी, 2016 में हुई थी स्‍टेशनों पर फ्री वाई-फाई की शुरुआत

दिल्ली सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में सीसीटीवी कैमरे लगाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है.  उन्होंने कहा कि इससे महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी. विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी ने राष्ट्रीय राजधानी में सीसीटीवी कैमरे लगाने का भी वादा किया था. लोक निर्माण विभाग के अनुसार, अगले पांच-छह महीने में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. 

पूरी दिल्ली को मुफ्त वाई फाई का वादा
2015 में सत्ता में लौटने के लिए समाज के सभी वर्गो को लुभाने का प्रयास करते हुए आम आदमी पार्टी ने अपना घोषणापत्र जारी किया था. जिसमें 24 घंटे बिजली आपूर्ति, पूरे शहर में मुफ्त वाई फाई, महिलाओं की सुरक्षा के लिए कम से कम दस लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने, पानी को कानूनी अधिकार बनाने तथा वैट में महत्वपूर्ण कटौती करने जैसे बहुत से वादे किए गए थे. घोषणापत्र जारी करते हुए आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि यह दस्तावेज कोई मामूली चुनावी दस्तावेज नहीं है बल्कि पार्टी का गीता, बाइबिल, कुरान और गुरू ग्रंथ साहिब है जिसे पार्टी सत्ता में आने पर अक्षरश: लागू करेगी. 

इनपुट भाषा से भी 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.