जुनैद की हत्या के विरोध में गांववालों ने काली पट्टी बांधकर अदा की ईद की नमाज

जुनैद की हत्या के विरोध में गांववालों ने काली पट्टी बांधकर अदा की ईद की नमाज
जुनैद की हत्या के विरोध में बल्लभगढ़ के खांडवाली गांव के लोगों ने काली पट्टी बांध कर ईद पर नमाज अदा की.

नई दिल्ली.  चार दिन पहले ट्रेन में हुए झगड़े में 17 साल के युवक जुनैद की पीट-पीट कर हत्या के बाद उसके गांव बल्लभगढ़ के खांडवाली में सोमवार सुबह ईद पर गांववालों ने विरोध स्वरूप काली पट्टी बांधकर विशेष नमाज अदा की. जुनैद ईद की खरीदारी कर दिल्ली से घर लौट रहा था तभी रास्ते में उसकी हत्या कर दी गई थी. 

दुख में हैं गांववाले

अब उसके गांव के मुस्लिम पूछ रहे हैं कि क्या, 'हत्या का यह दौर' कभी खत्म होगा? दिल्ली के पास बल्लभगढ़ में खांडवाली के निवासी शकील ने कहा, 'जुनैद की हत्या के बाद हम ईद की खुशियां नहीं मना सकते. इसलिए हमनें अपनी बाहों पर काली पट्टी बांधकर अपना विरोध जताने का फैसला किया.' उन्होंने दावा किया कि पड़ोस के गांव के मुसलमानों ने भी ईद पर सुबह की नमाज के दौरान काली पट्टी बांधकर इस घटना का विरोध किया।

ट्रेन में चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई थी जुनैद की

दिल्ली के सदर बाजार से 22 जून को अपने दो भाइयों के साथ खरीदारी कर मथुरा जाने वाली ट्रेन से लौट रहे जुनैद की चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई थी. कथित तौर पर सीट को लेकर हुए विवाद के बाद लोगों के एक समूह ने इन लोगों पर सांप्रदायिक टिप्पणी की और विवाद बढ़ने पर हमला कर दिया.