close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानें, शपथ ग्रहण के बाद आज पहले दिन पीएम मोदी सबसे पहले किससे मिले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष आमंत्रण पर मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ और श्रीलंका के राष्‍ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेन शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए गुरुवार को दिल्‍ली पहुंचे थे.  

जानें, शपथ ग्रहण के बाद आज पहले दिन पीएम मोदी सबसे पहले किससे मिले
मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ और श्रीलंका के राष्‍ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेन से हैदराबाद हाउस में मुलाकात की. (फोटो: ANI)

नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले दिन की शुरूआत उनके शपथ ग्रहण समारोह में शरीक होने आए विदेशी मेहमानों से मुलाकात के साथ की. आज पीएम मोदी ने सबसे पहले मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ के साथ की. दोनों राष्‍ट्र प्रमुखों की यह मुलाकात इंडिया गेट के समीप स्थित हैदराबाद हाउस में हुई. करीब 20 मिनट चली इस मुलाकात के बाद पीएम मोदी ने श्रीलंका के राष्‍ट्रपति  मैत्रीपाल सिरिसेन से भेंट वार्ता की. उल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष आमंत्रण पर मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ और श्रीलंका के राष्‍ट्रपति मैत्रीपाल सिरिसेन शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए गुरुवार को दिल्‍ली पहुंचे थे.  

उल्‍लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शपथ ग्रहण के साथ अपना काम शुरू कर दिया था. तय कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार रात्रि सबसे पहले कीर्गिस्‍तान के राष्‍ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान द्विपक्षीय मुद्दों पर व्‍यापक चर्चा की. इस मुलाकात के दौरान दोनों देशों के नागरिकों के परास्‍परिक हित के लिए विविधता लाने पर विचान विमर्श किया गया. 

यह भी पढ़ें: जल्‍द ये कड़े-बड़े फैसले ले सकती है मोदी सरकार, एयर इंडिया समेत 42 सरकारी कंपनियों का निजीकरण संभव : सूत्र

प्रधानमंत्री कार्यायल के अनुसार, किर्गिस्‍तान वर्तमान समय में शंघाई कॉपरेशन ऑर्गनाइजेशन की अध्‍यक्षता कर रहे हैं. मुलाकात के दौरान किर्गीस्‍तान के राष्‍ट्रपति  सूरोनबे जीनबेकोव ने सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरे कार्यकाल के बधाई दी. मुलाकात के दौरान, राष्‍ट्रपति सूरोनवे जीनबेकोव ने 13 से 15 जून के बीच किर्गीस्‍तान में होने वाले एससीओ सम्‍मेलन शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण भी दिया. 

देखें लाइव टीवी: 

प्रधानमंत्री कार्यायल के अनुसार, इस मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते सालों में  किर्गीस्‍तान की तरफ से मिल रहे द्विपक्षीय सहयोग की न केवल सराहना की बल्कि भविष्‍य में उन्‍हें अधिक मजबूत करने का वादा किया. वहीं, राष्‍ट्रपति सूरोनवे जीनबेकोव द्वारा किर्गीस्‍तान आने के निमंत्रण को स्‍वीकार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल्‍द उनके देश आने का आश्‍वासन भी दिया. इस मुलाकात के बाद, गुरुवार देर रात्रि राष्‍ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव किर्गीस्‍तान के लिए रवाना हो गए. 

यह भी पढ़ें: 2012 में इस 'चीनी एक्‍सपर्ट' से पहली बार चीन में मिले थे PM मोदी, अब कैबिनेट में दी जगह

शुरू हुआ विदेशी मेहमानों के साथ मुलाकात का सिलसिला
अपने दूसरे कार्यकाल में बतौर प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी का पहला दिन है. आज वे अपने दिन की शुरूआत उनके शपथ ग्रहण समारोह में आए विदेशी मेहमानों से मुलाकात के साथ शुरू करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी विदेशी मेहमानों से इंडिया गेट के समीप स्थित हैदराबाद हाउस में मुलाकात करेंगे. उनकी इन मुलाकातों का दौरान शुक्रवार सुबह 10:30 से शुरू होकर दोपहर बाद तक चलेगी. जिसमें वे बिम्‍सनेट सदस्‍य देशों के राष्‍ट्र प्रमुखों के अलावा मॉरिशस के प्रधानमंत्री से भी मुलाकात करेंगे. 

इन वीवीआईपी विदेशी मेहमानों के साथ होगी पीएम की मुलाकात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार सुबह बांग्‍लादेश के राष्‍ट्रपति अब्‍दुल हामिद, श्रीलंका के राष्‍ट्रपति  मैत्रीपाल सिरिसेन, मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ, नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और भूटान के प्रधानमंत्री  लोटये शेरिंग से बातचीत करेंगे.