close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाढ़ग्रस्त चेन्नई में जरूरी सामान की हुई कमी

शहर में बारिश का जोर कम पड़ने के बावजूद दूध और पानी जैसे जरूरी सामान की उपलब्धता प्रभावित हुई है जबकि कुछ जगहों पर उन्हें उंची कीमतों पर बेचा जा रहा है। बारिश के कारण लगातार तीसरे दिन बिजली, परिवहन और टेलीफोन सेवाएं प्रभावित रहीं।

चेन्नई : शहर में बारिश का जोर कम पड़ने के बावजूद दूध और पानी जैसे जरूरी सामान की उपलब्धता प्रभावित हुई है जबकि कुछ जगहों पर उन्हें उंची कीमतों पर बेचा जा रहा है। बारिश के कारण लगातार तीसरे दिन बिजली, परिवहन और टेलीफोन सेवाएं प्रभावित रहीं।

कुछ जगहों पर दूध की एक थैली 100 रुपये में, टमाटर और फलियां जैसी सब्जियां 80 से 90 रपए प्रति किलोग्राम बिक रही हैं। राज्य विद्युत बोर्ड ने ऐहतियाती उपाय के तौर पर विद्युत आपूर्ति रोक दी है, जिसकी वजह से शहर और उसके आसपास के इलाकों में रहने वाले लोग, जिन्होंने दूध और सब्जियां बड़ी मात्रा में जमा की ली थीं अब उन्हें ज्यादा समय तक रख पाने में असमर्थ हैं।

कई जगहों पर, जहां दूध बेचा जा रहा है, लंबी कतारें देखी गयीं जबकि प्रसिद्ध कोयमबेडू सब्जी बाजार का शहर से संपर्क टूटने से सब्जियों की कीमतों में जोरदार उछाल आया है। मिनरल वाटर भी उंची कीमत पर बिक रहे हैं और आमतौर पर 30 रुपये में उपलब्ध 20 लीटर की पानी की बोतल 150 रुपये में बेची जा रही है। शहर के अधिकतर सुपर मार्केट और होटल या तो बंद हैं या उनका भंडार खत्म हो गया है।

पिछले कुछ दिनों में उत्तर पूर्वी मानसून और बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के कारण भारी बारिश होने एवं बाढ़ आने से तमिलनाडु के कई जिलों खासकर चेन्नई में स्थिति संकटपूर्ण हो गयी है। चेन्नई और उसके उपनगरीय क्षेत्रों के कई इलाके जलमग्न हैं, जिनसे आम जनजीवन ठप हो गया है।