दिल्‍ली एयरपोर्ट पर युवती को पत्‍नी बता टोरंटो ले जाने की कर रहा था कोशिश और फिर...

इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पुलिस ने आरोपियों को भेजा सलाखों के पीछे, कब्‍जे से बरामद हुआ है फर्जी पासपोर्ट.

दिल्‍ली एयरपोर्ट पर युवती को पत्‍नी बता टोरंटो ले जाने की कर रहा था कोशिश और फिर...
दिल्‍ली एयरपोर्ट पर चेक-इन प्रक्रिया के दौरान विदेशी एयरलाइंस के सिक्‍योरिटी अधिका‍री को हुआ था आरोपी पर शक. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: युवती को खुद की पत्‍नी बताकर विदेश ले जाने की कोशिश को सुरक्षा एजेंसियों ने नाकाम किया है. मामला दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट का है. जहां एक युवक फर्जी पासपोर्ट की मदद से एक युवती को टोरंटो ले जाने की कोशिश कर रहा था. आईजीआई एयरपोर्ट पुलिस ने आरोपी युवक और युवती को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है. दोनों आरोपियों की पहचान मनदीप सिंह और रमनदीप कौर के रूप में हुई है. इनके कब्‍जे से फर्जी भारतीय पासपोर्ट भी बरामद किया गया है. आईजीआई एयरपोर्ट पुलिस इस मामले को मानव तस्‍करी से जोड़ कर देख रही है.

एयरपोर्ट के वरिष्‍ठ सुरक्षा अधिकारी के अनुसार, आरोपी मनदीप सिंह और रमनदीप कौर एयर कनाडा एयरलाइंस की फ्लाइट एसी-043 से टोरंटो रवाना होने वाले थे. आरोपी युवक और युवती सोमवार (13 मई) की रात करीब 11 बजे आईजीआई एयरपोर्ट के टर्मिनल थ्री पहुंचे. एयरलाइंस काउंटर पर चेक-इन की प्रक्रिया के दौरान मनदीप सिंह ने रमनदीप कौर का परिचय अपनी पत्‍नी गगनदीप कौर के रूप में कराया. पासपोर्ट की जांच के दौरान एयरलाइंस के सिक्‍योरिटी स्‍टाफ को शक हुआ. जिसके आधार पर, उन्‍होंने इस बाबत इमीग्रेशन अधिकारियों को सूचना दी. 

इमीग्रेशन के अधिकारियों ने जांच में पासपोर्ट को पाया फर्जी
एयर कनाड़ा के सिक्‍योरिटी स्‍टाफ की सूचना पर इमीग्रेशन अधिकारियों ने युवती के पासपोर्ट की जांच की. जिसमें पासपोर्ट फर्जी पाया गया. जिसके बाद, इमीग्रेशन अधिकारियों ने युवक और युवती के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करा दिल्‍ली एयरपोर्ट पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस की पूछताछ के दौरान, मनदीप सिंह ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. उसने बताया कि वह फर्जी पासपोर्ट पर रमनदीप कौर को टोरंटो ले जाने की कोशिश कर रहा था. इस काम के एवज में उसने रमनदीप कौर से मोटी रकम भी वसूली थी. मनदीप सिंह के गुनाह कबूल करने के बाद पुलिस ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है. 

विदेश में नौकरी का झांसा देकर युवतियों को भेजा जाता है विदेश
एयरपोर्ट की वरिष्‍ठ सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि यह पूरा मामला मावन तस्‍करी से जुड़ा हुआ है. उन्‍होंने बताया कि हमारे देश में ऐसे नौजवानों की कमी नहीं है जो विदेश जाने के लिए गैरकानूनी कदम उठाने से भी गुरेज नहीं करते हैं. यह मामला इसी कोशिश का एक उदाहरण है. उन्‍होंने बताया कि टोरंटों में रहने वाले तस्‍कर गिरोह के सदस्‍य भारत आने के बाद युवतियों को विदेश की चकाचौध वाली जिंदगी के सपने दिखाते हैं. इसके बाद, उनके लाखों रुपए वसूल कर विदेश ले जाने की कोशिश करते है. इस कोशिश के तहत, आरोपी फर्जी पासपोर्ट बनाकर युवती को अपनी पत्‍नी बताते हैं, जिससे जांच प्रक्रिया के दौरान उन्‍हें परेशानी का सामना न करना पड़े. पूर्व में भी ऐसी कोशिशें हो चुकी है, लिहाजा एयरपोर्ट पर तैनात सभी सुरक्षा एजेंसी ऐसी कोशिशों को लेकर सतर्क रहती है.