close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दक्षिण कश्‍मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 3 आतंकी मारे गए

हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकियों के मारे जाने की खबर है.  इनमें इनका कमांडर नासिर भी शामिल है.

दक्षिण कश्‍मीर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 3 आतंकी मारे गए

श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर के बिजबेहड़ा के पजलपुरा में सुबह छह बजे सुरक्षाबलों और आंतकियों के बीच मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकियों के मारे जाने की खबर है.  इनमें इनका कमांडर नासिर भी शामिल है. सेना और सीआरपीएफ के जवानों का ये संयुक्‍त ऑपरेशन था. सुरक्षाबलों को तड़के तीन बजे एक मकान में इन आतंकियों के छुपे होने की खबर मिली थी. उसके बाद सुबह छह बजे ऑपरेशन किया गया.

इससे पहले सोमवार को शोपियां इलाके के सिंधु शेरमल में आतंकवादियों ने राजस्थान के ट्रक ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी, जिसके बाद दक्षिणी कश्मीर (Kashmir) में दहशत का माहौल पैदा हो गया है. स्थानीय लोगों ने इस घटना की कड़ी निंदा की है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस ट्रक ड्राइवर की हत्या के मामले में 15 लोगों को पुलिस ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. यह घटना सोमवार को रात के करीब 8 बजे हुई, जब फलों से लदे ट्रक में अज्ञात बंदूकधारियों ने हमला कर दिया. ड्राइवर की हत्या की और सेब से लादे ट्रक को आग लगा दी.  ड्राइवर को तुरंत स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. मृतक की पहचान राजस्थान के रहने वाले शरीफउद्दीन खान के रूप में हुई है.

LIVE TV

जम्मू कश्मीर: 'हुजूर हम तो फल कारोबारी हैं, हमें गोली मारने से किसी का क्या भला होगा'

घटना के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके में घेरा डाला और तलाशी अभियान चलाया जो रात भर चला. इस घटना ने दक्षिण कश्मीर (Kashmir) और आसपास के क्षेत्रों के फल उत्पादकों में डर पैदा कर दिया है. लोगों का कहना है कि दक्षिण कश्मीर (Kashmir) में ट्रक ड्राइवर की हत्या के बाद स्थिति पूरी तरह से तनावपूर्ण हो गई है. शोपियां के एक फल उत्पादक ज़ीशान अहमद (बदला हुआ नाम) के अनुसार, 'स्थिति चिंताजनक है, हमें पूरे भारत में अपनी फल को भेजने के लिए टारगेट किये जा रहे हैं.'

उन्होंने कहा कि उन्हें देश के सभी हिस्सों में फल भेजना जिम्मेदारी है, क्योंकि 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटने से पहले ही एडवांस पैसे लिए जा चुके हैं. उनका कहना है कि फल उत्पादक कुछ गलत या गैरकानूनी नहीं कर रहे हैं, जिसके लिए हमें निशाना बनाया जा रहा है, यहां तक ​​कि हम अपने सामान को रात के दौरान ट्रांसपोर्ट कर रहे हैं और यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हम अभी भी टारगेट हो रहे हैं.

पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आतंकवादी ने राजस्थान के जिला भरतपुर में ग्राम उबा के शरीफ खान नामक नागरिक की गोली मारकर हत्या कर दी. यह पता चला है कि गांववालों ने ड्राइवर को बचाने की कोशिश की, मगर आतंकवादियों ने ग्रामीणों को भी पीटा और इस भीषण अपराध को अंजाम दिया. पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच के अनुसार, इस आतंकी कार्रवाई के पीछे जैश और हिज़्ब के आतंकवादी गुट लग रहे हैं.