PM Modi का राष्ट्र को संदेश, कहा- कवच कितना ही उत्तम हो, जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते
X

PM Modi का राष्ट्र को संदेश, कहा- कवच कितना ही उत्तम हो, जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को देश को संबोधित किया और लोगों को सावधान करते हुए कहा कि कवच कितना ही उत्तम हो, कवच कितना ही आधुनिक हो, कवच से सुरक्षा से पूरी गारंटी हो तो भी जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते. मेरा आग्रह है कि हमें अपने त्योहारों को पूरी सतर्कता के साथ ही मनाना है. इसके साथ ही पीएम मोदी ने 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज (100 Crore Corona Vaccine Dose) का आंकड़ा पार करने पर बधाई दी और कहा कि 21 अक्टूबर को भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन खुराक देने का कठिन, लेकिन असाधारण लक्ष्य हासिल किया.

PM Modi का राष्ट्र को संदेश, कहा- कवच कितना ही उत्तम हो, जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते
LIVE Blog
22 October 2021
10:33 AM

जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते: पीएम

पीएम मोदी ने कहा, 'कवच कितना ही उत्तम हो, कवच कितना ही आधुनिक हो, कवच से सुरक्षा से पूरी गारंटी हो तो भी जबतक युद्ध चल रहा है हथियार नहीं डाले जाते. मेरा आग्रह है कि हमें अपने त्योहारों को पूरी सतर्कता के साथ ही मनाना है.' उन्होंने कहा कि अब तक डिजाइनर मास्क आने लगे हैं. जिस तरह से हम जूते पहनकर बाहर जाते हैं, वैसे ही हम मास्क को भी एक सहज स्वभाव बनाएं.

 

10:32 AM

'पिछली दिवाली में तनाव था, इस दिवाली विश्वास है'

पीएम मोदी ने कहा, 'पिछली दिवाली हर किसी के मन में एक तनाव था, लेकिन इस दिवाली 100 करोड़ वैक्सीन डोज के कारण एक पैदा हुआ विश्वास है. अगर मेरे देश की वैक्सीन मुझे सुरक्षा दे सकती है, तो मेरे देश में बने सामान मेरी दिवाली को और भी भव्य बना सकते हैं.'

10:32 AM

कृषि ने अर्थव्यवस्था को संभाला: पीएम मोदी

कोरोना काल में कृषि क्षेत्र ने हमारी अर्थव्यवस्था को मजबूती से संभाले रखा. आज रिकॉर्ड लेवल पर अनाज की खरीद हो रही है. किसानों के बैंक खाते में सीधे पैसे जा रहे हैं. वैक्सीन के बढ़ते कवरेज के साथ हर क्षेत्र में सकारात्मक गतिविधियां तेज हो रही हैं.

10:24 AM

मेड इन इंडिया पर दें जोर: पीएम

हर छोटी से छोटी चीज, जो Made In India हो, जिसे बनाने में किसी भारतवासी का पसीना बहा हो, उसे खरीदने पर जोर देना चाहिए. और ये सबके प्रयास से ही संभव होगा. भारतीयों द्वारा बनाई चीज खरीदना, Vocal For Local होना, ये हमें व्यवहार में लाना ही होगा.

10:20 AM

पीएम मोदी ने कहा, 'आज भारतीय कंपनियों को न केवल रिकॉर्ड निवेश मिल रहा है, बल्कि रोजगार सृजन भी हो रहा है. स्टार्ट-अप में रिकॉर्ड निवेश के साथ-साथ रिकॉर्ड स्टार्टअप यूनिकॉर्न भी विकसित किए जा रहे हैं. हमारे देश ने कोविन प्लेटफॉर्म की जो व्यवस्था बनाई है, वो भी विश्व में आकर्षण का केंद्र है. भारत में बने कोविन प्लेटफॉर्म ने न केवल आम लोगों को सहुलियत दी, बल्कि मेडिकल स्टाफ के काम को भी आसान बनाया है.'

10:18 AM

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'यह हमारे लिए गर्व की बात है कि भारत का टीकाकरण कार्यक्रम science-born, science-driven और science-based रहा है. टीकों के विकास से लेकर टीकाकरण तक, विज्ञान सभी प्रक्रियाओं का आधार रहा है. हमने महामारी के खिलाफ देश की लड़ाई जन भागीदारी को अपनी पहली ताकत बनाया. देश ने अपनी एकजुटता को ऊर्जा देने के लिए ताली, थाली बजाई, दीए जलाए तब कुछ लोगों ने कहा था कि क्या इससे बीमारी भाग जाएगी? लेकिन हम सभी को उसमें देश की एकता दिखी, सामूहिक शक्ति का जागरण दिखा.'

10:17 AM

पीएम मोदी ने कहा, 'सबको साथ लेकर देश ने ‘सबको वैक्सीन-मुफ्त वैक्सीन’ का अभियान शुरू किया. गरीब-अमीर, गांव-शहर, दूर-सुदूर, देश का एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं करती, तो वैक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता. ये सुनिश्चित किया गया कि वैक्सीनेशन अभियान पर वीआईपी कल्चर हावी न हो. भारत ने अपने नागरिकों को 100 करोड़ वैक्सीन डोज लगाई है और वो भी बिना पैसा लिए. 100 करोड़ वैक्सीन डोज का एक प्रभाव ये भी होगा कि अब दुनिया भारत को कोरोना से ज्यादा सुरक्षित मानेगी.'

10:16 AM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'जब 100 साल की सबसे बड़ी महामारी आई, तो भारत पर सवाल उठने लगे. क्या भारत इस वैश्विक महामारी से लड़ पाएगा? भारत दूसरे देशों से इतनी वैक्सीन खरीदने का पैसा कहां से लाएगा? भारत को वैक्सीन कब मिलेगी? भारत के लोगों को वैक्सीन मिलेगी भी या नहीं? क्या भारत इतने लोगों को टीका लगा पाएगा कि महामारी को फैलने से रोक सके? भांति-भांति के सवाल थे, लेकिन आज ये 100 करोड़ वैक्सीन डोज, हर सवाल का जवाब दे रही है.'

10:14 AM

पीएम मोदी ने कहा, 'आज कई लोग भारत के वैक्सीनेशन प्रोग्राम की तुलना दुनिया के दूसरे देशों से कर रहे हैं. भारत ने जिस तेजी से 100 करोड़ का यानी 1 बिलियन का आंकड़ा पार किया, उसकी सराहना भी हो रही है. लेकिन, इस विश्लेषण में एक बात अक्सर छूट जाती है कि हमने ये शुरुआत कहां से की. दुनिया के दूसरे बड़े देशों के लिए वैक्सीन पर रिसर्च करना, वैक्सीन खोजना, इसमें दशकों से उनकी expertise थी. भारत, अधिकतर इन देशों की बनाई वैक्सीन्स पर ही निर्भर रहता था.'

10:13 AM

प्रधानमंत्री ने कहा, 'हमारे देश ने एक तरफ कर्तव्य का पालन किया, तो दूसरी तरफ उसे सफलता भी मिली. कल भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन डोज का कठिन लेकिन असाधारण लक्ष्य प्राप्त किया है. 100 करोड़ वैक्सीन डोज केवल एक आंकड़ा ही नहीं, ये देश के सामर्थ्य का प्रतिबिंब भी है. इतिहास के नए अध्याय की रचना है. ये उस नए भारत की तस्वीर है, जो कठिन लक्ष्य निर्धारित कर, उन्हें हासिल करना जानता है.'

10:09 AM

पीएम मोदी ने कहा, '100 करोड़ वैक्सीन की खुराक सिर्फ एक संख्या नहीं है, बल्कि एक राष्ट्र के रूप में हमारी क्षमता को दर्शाती है. यह नए भारत को चित्रित करता है जो कठिन लक्ष्य निर्धारित करना और उन्हें प्राप्त करना जानता है.'

10:05 AM

राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों 21 अक्टूबर को भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन खुराक देने का कठिन, लेकिन असाधारण लक्ष्य हासिल किया. यह 130 करोड़ भारतीयों के एकीकृत प्रयासों से संभव हुआ है. मैं इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए अपने नागरिकों को बधाई देता हूं.'

10:05 AM

राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों 21 अक्टूबर को भारत ने 100 करोड़ वैक्सीन खुराक देने का कठिन, लेकिन असाधारण लक्ष्य हासिल किया. यह 130 करोड़ भारतीयों के एकीकृत प्रयासों से संभव हुआ है. मैं इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए अपने नागरिकों को बधाई देता हूं.'

09:46 AM

लाइव टीवी

09:42 AM

कोरोना वायरस पर पीएम मोदी का संबोधन

पहला संबोधन : 19 मार्च 2020
जनता कर्फ्यू की अपील

दूसरा संबोधन : 24 मार्च 2020
लॉकडाउन का ऐलान

तीसरा संबोधन : 14 अप्रैल 2020
3 मई तक लॉकडाउन का ऐलान

चौथा संबोधन : 12 मई 2020
20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान

पांचवा संबोधन : 30 जून 2020
अन्न योजना बढ़ाने का ऐलान

सातवां संबोधन : 20 अक्टूबर 2020
कोरोना के प्रति जनता को किया आगाह

आठवां संबोधन : 20 अप्रैल 2021
राज्यों को कोरोना को लेकर किया आगाह

नौवां संबोधन : 7 जून 2021
वैक्सीन नीति का ऐलान

09:35 AM

इन मुद्दों पर बात कर सकते हैं पीएम मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अपने संबोधन में देश की जनता को क्या कहेंगे, देशभर की नजरें इस पर टिकी हुई हैं. उम्मीद जताई जा रही है कि प्रधानमंत्री अपने संबोधन के दौरान 100 करोड़ वैक्सीन पर बात करने के अलावा कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं. साथ ही दिवाली और छठ जैसे त्योहारों पर लोगों को कोरोना से आगाह भी कर सकते हैं. इसके अलावा देश की कई योजनाओं की उपलब्धि पर चर्चा कर सकते हैं. इसके अलावा पीएम मोदी अर्थव्यवस्था, बच्चों की वैक्सीन और किसानों के मुद्दे पर भी बात कर सकते हैं.

09:33 AM

पीएम मोगी ने बदली अपनी प्रोफाइल पिक्चर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अपने ट्विटर अकाउंट की प्रोफाइल पिक्चर भी देश के 100 करोड़ वैक्सीनेशन को समर्पित करते हुए बदल लिया है.

 

09:29 AM

प्रधानमंत्री ने दी देश को बधाई

इससे पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश को 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर देश को बधाई दी थी. उन्होंने ट्विटर लिखा, ‘भारत ने इतिहास रच दिया. हम भारतीय विज्ञान, उद्यम और 130 करोड़ भारतीयों की सामूहिक भावना की विजय के साक्षी बन रहे हैं. टीकाकरण में 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने पर भारत को बधाई. हमारे डॉक्टरों, नर्सों और उन सभी को धन्यवाद जिन्होंने इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए काम किया.’

09:28 AM

पीएम मोदी इन मुद्दों पर दे सकते हैं संदेश

माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री देश के नाम अपने संबोधन में 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज (100 Crore Corona Vaccine Dose) का आंकड़ा पार करने को लेकर बात कर सकते हैं. बता दें कि भारत ने गुरुवार को 100 करोड़ वैक्सीन डोज का ऐतिहासिक आंकड़ा पार किया था.

09:26 AM

10 बजे देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सुबह 10 बजे देश को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने इस बात की जानकारी दी है और बताया है कि पीएम मोदी देश को संबोधित करेंगे.

Trending news